धर्म 2021 : देश-विदेश के 20 घटनाक्रम

Last Updated: सोमवार, 27 दिसंबर 2021 (18:39 IST)
हमें फॉलो करें
Flash back 2021: वर्ष 2021 में धर्म क्षेत्र में बहुत कुछ उथल-पुथल देखने को मिली। धार्मिक विवाद, कट्टरता, धर्मांतरण के साथ ही धार्मिक विकास, सामंजस्यता और सौहार्द भी देखने को मिला। आओ जानते हैं देश विदेश की टॉप 20 मुख्य घटनाक्रम।  
 
1. अयोध्या में मंदिर निर्माण को लेकर चंदा उगाही पर विवाद के साथ ही और मंदिर भूमि के आसपास की भूमि पर भी विवाद रहा।
 
2. हरिद्वार महाकुंभ, कोरोना काल के कारण पूर्ण कुंभ चला केवल 48 दिन। इस कुंभ में महामंडलेश्वर कपिल देव का कोरोना से निधन हो गया था।
 
3. पीएम मोदी के सत्ता में आने के बाद से ही काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का कार्य चल रहा था परंतु 2021 में इसका उद्घाटन हुआ। अब गंगा तट से सीधे बाबा के दर्शन होंगे।
 
4. केदारनाथ में आदिशंकराचार्य की मूर्ति का लोकार्पण और समाधि का पुनर्निर्माण इस वर्ष पूर्ण कर लिया गया। हालांकि केदारनाथ पुननिर्माण परियोजन पर कार्य अभी जारी है।
 
5. 11 मार्च को ब्रह्माकुमारी की दादी हृदयमोहिनी का निधन, 20 सितंबर को अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि का निधन।
 
6. नरेंद्र मोदी जी जब से सत्ता में आए थे तब से ही करतारपुर कॉरिडोर कार्य तेजी से प्रारंभ हुआ परंतु इस वर्ष इसका शुभारंभ कर दिया गया। अब 200 श्रद्धालु प्रतिदिन कर सकेंगे दरबार साहिब के दर्शन।
 
7. शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के पूर्व चेयरमैन वसीम रिजवी ने और मलयालम फिल्म निर्देशक अली अकबर ने छोड़ा इस्लाम।
8. कश्मीर में हिन्दुओं और सिखों की हत्या चर्चा में रही, फिर से मंडराया '1990' वाला आतंक का साया। आर्टिकल 370 हटने के बाद घाटी में गैर मुस्लिमों के खिलाफ हत्या के मामले बढ़े हैं।
 
9. धर्मांतरण कानून पर विवाद, यूपी के आईएएस इफ्तिखारुद्दीन को किया गिरफ्तार, कर्नाटक में बहस। खासकर ईसाई मिशनरी इस कानून को लेकर घबराया हुआ है।
 
10. राहुल गांधी ने हिन्दू धर्म और हिन्दुत्व में बताया अंतर, सलमान खुर्शीद की किताब में 'हिन्दू आतंकवाद' शब्द पर बवाल। दोनों ही बातों को लेकर इस वर्ष जमकर दोनों की आलोचना हुई।
 
11. हरिद्वार और छत्तीसगढ़ में आयोजित 'हिंदू धर्म संसद' में कालीचरण महाराज
 
 ने किया महात्मा गांधी का अपमान और नाथूराम गोडसे को सही ठहराया। इसको लेकर कालीचरण पर केस दर्ज कर लिया गया।
 
12. बांग्लादेश में मंदिर पर हमला, दुर्गा पंडाल में रखी कुरान, आरोपी गिरफ्तार। बांग्लादेश में इस्कॉन मंदिर में तोड़फोड़ और हत्या इस वर्ष की सबसे बड़ी खबर बनी थी।
 
13. पाकिस्तान की स्वात घाटी में बौद्ध काल के 2300 वर्ष पुराने मंदिर की खोज। 
 
14. पाकिस्तान में हिन्दू मंदिरों को तोड़े जाने का सिलसिला इस वर्ष भी जारी रहा।
 
15. अफगानिस्तान में तालिबान का राज लौट आने से वहां के शिया मुस्लिमों सहित हिन्दू और सिखों को पलायन के लिए होना पड़ा मजबूर और उन्होंने भारत में ली शरण।
 
16. इंडोनेशिया के पूर्व राष्ट्रपति सुकर्णो की पुत्री सुकमावती सुकर्णोपुत्री ने इस्लाम छोड़कर हिन्दू धर्म अपनाया। सुकमावती के इस कदम का उनके भाइयों, बहनों, पुत्र और पुत्रियों ने समर्थन किया।
 
17. अरब में नया धर्म, यूएई-इजराइल में 'अब्राहम समझौता', अब अब्राहमी धर्म पर छिड़ी बहस। मिस्र के अल-अजहर के सर्वोच्च इमाम अहमद अल तैय्यब ने इस धर्म की आलोचना की। 
18. फ्रांस में मुस्लिम कट्टरपंथ को रोकने के लिए बड़ी सख्ती, कई मस्जिद-मदरसों पर हुई कार्रवाई।
 
19. पाकिस्तानी युवाओं में नास्तिक होने की रुझान के बढ़ने और इस्लाम के छोड़ने के प्रचलन पर सोशल मीडिया में खासी चर्चा रही। नास्तिक बन रहे या इस्लाम छोड़ रहे लोगों की दर्दनाक कहानी इस वर्ष चर्चा में रही। 
 
20. तब्लीगी जमात पर इस्लामिक देशों में विवाद। पाकिस्तान, सऊदी अरब, ईरान आदि कई देशों में तब्लीगी जमात के आतंकवाद से रिश्तों के खुलासे के बाद विवाद हो चला है। कुछ देशों का तो आरोप है कि तब्लीगी जमात द्वारा कई देशों में आतंकवादियों की भी भर्ती की जाती है। हाल ही में सऊदी अरब ने इस पर प्रतिबंध लगा दिया है।



और भी पढ़ें :