CM योगी बोले- कांग्रेस ने मानी होती वीर सावरकर की बात तो नहीं होता भारत का विभाजन

अवनीश कुमार| पुनः संशोधित शनिवार, 28 मई 2022 (23:31 IST)
हमें फॉलो करें
लखनऊ।
CM Yogi On : मुख्यमंत्री ने शनिवार को पर आरोप लगाया कि उसने विनय दामोदर सावरकर जैसे क्रांतिकारी, लेखक, दार्शनिक, कवि का अपमान करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। उन्होंने दावा किया कि अगर कांग्रेस ने सावरकर की बात मानी होती तो देश का विभाजन नहीं होता।

योगी ने आरोप लगाया कि आजादी से पहले अंग्रेजों ने और आजादी के बाद कांग्रेस ने राष्ट्रनायक सावरकर का अपमान करने की कोशिशें कीं। उस दौर में सावरकर से बड़ा कोई नहीं था। आज़ादी के बाद जो सम्मान सावरकर को मिलना चाहिए था वो नहीं मिला।’’ योगी ने दावा किया कि हिन्दुत्व शब्द ने दिया था।
एक बयान के मुताबिक, मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सावरकर की जयंती पर उदय माहुरकर एवं चिरायु पंडित की सद्य: प्रकाशित पुस्तक 'वीर सावरकर- जो भारत का विभाजन रोक सकते थे और उनकी राष्ट्रीय सुरक्षा दृष्टि' पुस्तक के विमोचन में उक्त बात कही।

उन्होंने दावा किया कि अगर कांग्रेस ने सावरकर की बात मानी होती तो देश का विभाजन नहीं होता। सावरकर ने कहा था कि पाकिस्तान आएंगे-जाएंगे लेकिन हिन्दुस्तान हमेशा रहेगा। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हर नागरिक को अल्पसंख्यक बहुसंख्यक की दृष्टि से देखने की जगह नागरिक के रूप में देखा जाना चाहिए। हमने इसे उत्तरप्रदेश में लागू किया और सुनिश्चित किया कि सड़क पर न पूजा होगी और न नमाज़ होगी।
आदित्यनाथ ने याद दिलाया कि अटलबिहारी वाजपेयी की सरकार ने पोर्टब्लेयर की सेल्युलर जेल में उनकी प्रतिमा लगवाई थी जिसे बाद में कांग्रेस की सरकार ने हटवा दिया।



और भी पढ़ें :