अयोध्या में फिल्म 'काली' का विरोध, साधु-संतों ने दी चेतावनी

Author संदीप श्रीवास्तव| पुनः संशोधित बुधवार, 6 जुलाई 2022 (20:34 IST)
हमें फॉलो करें
अयोध्या। डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'काली' का प्रबल विरोध अयोध्या मे जमकर शुरू हो गया है। इस फिल्म के पोस्टर में मां काली को सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। इस फिल्म का अयोध्या के साधु-संतों ने विरोध किया व फिल्म डायरेक्टर के खिलाफ कड़ी कार्रवाई व फिल्म पर प्रतिबंध लगाने की मांग की है।


अयोध्या हनुमान गढ़ी के महंत राजूदास ने कहा कि इस फिल्म में सनातन धर्म व हिन्दू देवी-देवताओं का मजाक बनाया जाना बहुत ही निंदनीय है। उन्होंने कहा कि हम देश के गृहमंत्री से मांग करते हैं कि डायरेक्टर के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई करते हुए फिल्म पर प्रतिबंध लगाया जाए।

उन्होंने कहा कि हाल ही में नूपुर शर्मा ने सही कह दिया तो पूरे देश मे आग लग गई। दुनिया में भूचाल आ गया। वहीं, सनातन धर्म संस्कृति का इस प्रकार से मजाक उड़ाया जा रहा है। ऐसा न हो कि अब स्थिति अनियंत्रित हो जाए। पोस्टर के विरोध को लेकर जिला कांग्रेस ने भी मोर्चा खोल दिया है। युवा कांग्रेस के पूर्व प्रदेश महासचिव शरद शुक्ला ने इस मामले में एक तहरीर पुलिस को दी है।

शरद शुक्ला ने फिल्म निर्माता लीना मणिमेकलई पर आरोप लगाते हुए कहा कि उन्होंने सनातन धर्म का अपमान करने के लिए डॉक्यूमेंट्री फिल्म 'काली' बनाई है। सनातन धर्म में काली आराध्य देवी हैं, जबकि फिल्म के पोस्टर में उनको सिगरेट पीते हुए दिखाया गया है। इसे कतई बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।


शुक्ला ने कहा कि इस वक्त देश सांप्रदायिकता के नाजुक दौर से गुजर रहा है। ऐसे में इस फिल्म के विवादित पोस्टर से जनभावना भड़क सकती है। देश में शांति बनी रहे इसके लिए लीना पर सुसंगत धाराओं में मामला दर्ज कर कानूनी कार्रवाई की जाए।



और भी पढ़ें :