UP : बुलडोजर वाले एक्शन से भड़की BJP MLA केतकी सिंह, बोलीं- आग लगा दूंगी

अवनीश कुमार| Last Updated: बुधवार, 11 मई 2022 (13:17 IST)
हमें फॉलो करें
बलिया। UP News in hindi : के बलिया में एक वीडियो सोशल मीडिया
तेजी से वायरल पर हो रहा है। पूरा वीडियो बलिया के बांसडीह तहसील से जुड़े मामले का बताया जा रहा है। वायरल वीडियो में एक व्यक्ति का घर गिराने के लिए बुलडोजर लेकर पहुंचे तहसील प्रशासन पर बीजेपी बांसडीह विधायक केतकीसिंह और उनके समर्थक ने जमकर नाराज होते दिख रहे हैं।
बीजेपी विधायक के समर्थकों ने सारी हदें पार करते हुए तहसील में आग लगा देने तक की बात तक कह दी और वीडियो में साफतौर पर दिख रहा है कि पूरे घटनाक्रम के दौरान बीजेपी भी वहीं पर मौजूद हैं। वीडियो में बीजेपी विधायक केतकी सिंह को कहती दिख रही हैं कि आपको एक छोटी-सी बात कही थी और आपने उसका सम्मान नहीं रखा।

बुलडोजर लेकर चले आए। इस बीच जब अधिकारी ने कहा कि घर तो नहीं ही गिराया तो विधायक भड़क गईं और कहा कि आप घर गिरा देते तो मैं खुद ही आग लगा देती पूरी तहसील में... । इसके बाद विधायक शांत नजर आ रही हैं लेकिन वही उनका एक समर्थक जो उनके पास बैठा है वह तो इतना उत्तेजित हो गया कि वह जोर-जोर से चिल्लाने लगा।

वह वीडियो में साफतौर पर कहता हुआ नजर आ रहा है कि जब एक बार विधायकजी ने बुलडोजर को रोकने को कहा तो रुकिए, आपकी हिम्मत कैसे हो गई उसके बाद भी बुलडजर लेकर पहुंचने की। समर्थक यहीं नहीं रुका और कहने लगा कि ज्यादा करोगे तो तहसील में आग लगा देंगे।
विपक्ष का हमला : बीजेपी विधायक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद विपक्ष बीजेपी पर लगातार हमलावर है। समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने भी ट्वीट कर बीजेपी पर हमला बोला। अखिलेश यादव ने ट्विटर पर लिखा है कि 'विकास कार्यों के नाम पर जिस बेहिसाब दर पर सत्ता से जुड़े लोगों को करोड़ों का मुआवज़ा दिया जा रहा है, वही दर से आम आदमी को भी दी जाए व उनको भी जिनके जायज़ निर्मार्णों पर केवल विद्वेषवश बुलडोज़र चलाया गया है। भाजपाइयों को लाभ पहुंचाने में मुआवजा भ्रष्टाचार का नया तरीका बन गया है।

क्या बोलीं विधायक :

विधायक केतकी सिंह ने कहा कि किसी गरीब का घर गिरा दिया जाए वह सही है क्या? मेरे सामने किसी गरीब के साथ अन्याय हो और वह रो रहा हो, यह मुझसे सहन नहीं हो सकता। मैंने तहसीलदार को बिना जांच किए ऐसी कोई कार्यवाही नहीं करने को कहा था। एक न्यूज के मुताबिक विधायक ने अपने व्यवहार पर खेद जताया है।

क्या था पूरा मामला : ग्रामीणों की मानें तो बलिया के बांसडीह तहसील में ग्राम समाज की जमीन को खाली कराने के लिए चलाए जा रहे अभियान के तहत ग्राम समाज की जमीन पर बने मकान को गिराने के लिए तहसीलदार सहित पूरी टीम पहुंची थी। इसकी जानकारी होते ही विधायक अपने समर्थकों के साथ पहुंच गईं और उनकी कहासुनी तहसीलदार से होने लगी और देखते ही देखते विधायक विधायक के समर्थक भड़क गए।



और भी पढ़ें :