UP: जर्जर मकान की छत गिरी, 1 महिला सहित 2 मासूमों की मौत, सीएम ने लिया मामले का संज्ञान

अवनीश कुमार| Last Updated: गुरुवार, 26 अगस्त 2021 (11:44 IST)
हमें फॉलो करें
कानपुर। उत्तरप्रदेश के में थाना बेकनगंज के अंतर्गत गुरुवार सुबह रिजवी रोड पर बने हुए एक की ढह गई। इस दौरान घर के अंदर मौजूद लगभग 4 लोग दब गए जिसमें 2 बच्चों सहित 1 महिला की हो गई है और बाकी अन्य घायलों को तत्काल प्रभाव से उर्सला अस्पताल में भेजा गया है, जहां सभी की स्थिति गंभीर बनी हुई है।
ALSO READ:

पेंटागन ने कहा, तालिबान का काबुल हवाई अड्डे के आसपास कड़ा नियंत्रण

क्या है मामला? : पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार कानपुर के बेगमगंज थाने के अंतर्गत रिजवी रोड पर पुराना जर्जर मकान बना हुआ था जिसमें 3 मंजिला मकान की छत लकड़ी की बल्लियों पर बनी मिट्टी छत वाली है। बीते दिनों हुई बारिश में बल्लियां पूरी तरह सड़ चुकी थीं और छत पर भी घास आदि भी निकल आई थी। मकान में करीब 11 परिवार रहते हैं। इसी मकान के एक हिस्से में राजू पुत्र कल्लू अपनी पत्नी रुखसाना बेटे नोमान और बेटी शिफा के साथ रह रहे थे। गुरुवार की सुबह मकान के एक हिस्से की छत भरभराकर ढह गई। सुबह हादसे के समय के समय कमरे में सो रहे परिवार के सभी चारों लोग मलबे में दब गए।
अफरा-तफरी मची: मकान गिरने की जानकारी मिलते ही क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई और आसपास से लोग पहुंच गए। लोगों ने बचाव कार्य शुरू करके पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने क्षेत्रीय लोगों की मदद से राहत व बचाव कार्य शुरू कर दिया और तत्काल प्रभाव से घायलों को इलाज के लिए उर्सला अस्पताल में भर्ती करवाया। लेकिन इसी दौरान हादसे में रुखसाना, नोमान और शिफा की मौत हो गई है। वहीं हादसे की जानकारी होते ही उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जिला प्रशासन के संबंधित अधिकारियों को तत्काल मौके पर पहुंचकर राहत कार्य चलाने और पीड़ितों की तत्काल सहायता के निर्देश भी दिए हैं।


क्या बोले थाना प्रभारी? : पूरे मामले को लेकर थाना प्रभारी ने बताया कि दो मंजिला मकान की छत ढहने की सूचना के 6 मिनट में रेस्क्यू करके मलबे में दबे 4 लोगों को बचाकर उर्सला अस्पताल भेजा गया है, जहां इलाज के दौरान 3 की मौत हो गई और वही रेस्क्यू ऑपरेशन के दौरान एक फायरकर्मी भी घायल हुआ।



और भी पढ़ें :