इसलिए अचानक PM के लिए मौसम खराब हो गया, अखिलेश यादव के सहयोगी जयंत चौधरी ने साधा पीएम पर निशाना

हिमा अग्रवाल| Last Updated: सोमवार, 7 फ़रवरी 2022 (23:09 IST)
हमें फॉलो करें
उत्तर प्रदेश का सियासी पारा अब अपने चरम पर है। मंगलवार शाम 5 बजे प्रथम चरण का चुनाव प्रचार थम जाएगा। जिसके चलते सभी पार्टियों के नेताओं ने वेस्ट यूपी की 58 सीटों पर मतदान से पहले अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। दिग्गज नेता एक-दूसरे पर बयानों के बाण छोड़ रहे हैं। के नेता जयंत चौधरी ने मेरठ में सोमवार को 2 विधानसभा क्षेत्रों में अपने प्रत्याशियों के लिए जनसभा को संबोधित करते हुए भारतीय जनता पार्टी पर हमला बोला।
में रालोद प्रत्याशी मनीषा अहलावत के पक्ष में वोट देने की अपील करते हुए जयंत ने कहा कि भाजपा ने लट्ठमार शासन दिया, अगर लोग गठबंधन की सरकार बनाओगे तो कभी भी आप पर लट्ठ नहीं चलेगा।हम लोग हनुमान की तरह अपनी शक्ति भूल गए थे, लेकिन इस बार आप लोगों को अपनी ताकत दिखानी है।

रालोद सुप्रीमो जयंत ने पीएम मोदी की बिजनौर रैली रद्द होने पर भी तंज कसते हुए कहा कि बिजनौर में तो धूप निकली हुई है, अब बीजेपी का मौसम कितना खराब हो गया है कि उन्होंने प्रोग्राम ही कैंसल कर दिया।

जयंत इतने पर ही नहीं रूके, योगीजी को घेरते हुए बोले कि मुख्यमंत्री के पद की गरिमा होती है, कोई शासक नहीं चाहता मेरे क्षेत्र में तनाव हो, मैंने कहा कि मेरठ में म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट और 70 फीसदी बल्ले यही बनते हैं, इसलिए मेरठ में इस बार लोकदल की बल्ले-बल्ले करा दो।

जयंत ने कहा कि सरकार ने ओडीपीडी की ब्रांड एंबेसडर कंगना रनौत की फोटो खिंचवाई है, सरकार कंगना को सुविधा दे रही है। यहां के म्यूजिकल यंत्र और बल्ले बनाने वाले किसी को एंबेसडर बनाकर फोटो नहीं खिचवाई हैं। संवैधानिक मूल्यों की रक्षा करता चुनाव है और यह चुनाव मान-सम्मान का चुनाव है।

मुख्यमंत्री के गर्मी वाले बयान पर चुटकी लेते हुए जयंत ने कहा कि माहौल बहुत अच्छा है, तापमान चढ़ा हुआ है, उसे ठंडा मत होने देना, माहौल से, अपने जोश से सियासी तापमान गर्म ही रखना। बीजेपी ने जयंत चौधरी को जो न्योता दिया है उस पर वह बोले मैं ऐसा नहीं हूं, जो फैसला बदल दूंगा, जो निर्णय ले लिया वो ले लिया है।



और भी पढ़ें :