UP चुनाव से पहले अवैध हथियार फैक्टरी का भंडाफोड़, 3 सप्लायर गिरफ्तार

हिमा अग्रवाल| पुनः संशोधित शनिवार, 22 जनवरी 2022 (00:36 IST)
से पहले मुजफ्फरनगर जिले की पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। यहां पर अवैध रूप से हथियार तैयार किए जा रहे थे और उनकी सप्लाई यूपी से उत्तर प्रदेश उत्तराखंड राज्य में की जानी थी। सप्लाई होने से पुलिस ने असलाह फैक्टरी का भंडाफोड़ करते हुए 3 सप्लायर को जेल की सलाखों के पीछे भेज दिया है।
को मुखबिर से सूचना मिली थी कि बडकली गांव स्थित आम के बाग में एक अवैध शस्त्र फैक्टरी चल रही है। इस हथियार फैक्टरी में बड़ी संख्या में अवैध हथियार बनाए जा रहे हैं, जो आगामी चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब और हरियाणा में डिमांड के अनुरूप हथियार तैयार कर रहे थे।

पुलिस ने इस फैक्टरी में छापेमारी करते हुए तीन शातिर हथियार सप्लायरों को करते हुए जेल भेज दिया है। साथ ही इनके पास से 131 अवैध तमंचे, बंदूक, राइफल, मस्कट बरामद किए हैं। पुलिस ने हथियार बनाने के उपकरण बरामद किए हैं।

मुजफ्फरनगर शहर कोतवाली पुलिस ने आम के बाग में छापेमारी करते हुए हथियार सप्लायर राजेंद्र उर्फ रजनीश व सरफराज और शाहिद निवासीगण मुजफ्फरनगर को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने इन अवैध हथियार सप्लायरों के साथ पास से 105 तमंचे व 21 मस्कट, 5 बंदूक-राइफल व 23 कारतूस और भारी मात्रा में अधबने तमंचे, मस्कट, राइफल व बंदूक सहित भारी मात्रा में हथियार बनाने के उपकरण बरामद किए हैं।

पुलिस अधिकारियों के मुताबिक आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर उत्तर प्रदेश उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा राज्यों में हथियारों की डिमांड के हिसाब से तैयार कर सप्लाई करने का यह गोरखधंधा बड़े स्तर पर चल रहा था। पुलिस अवैध शस्त्र सप्लायर से यह भी जानने की कोशिश कर रही है कि मौत के सामान को खरीदने वाला कौन है, क्या वह चुनाव में खून-खराबा करने की मंशा रखता है।



और भी पढ़ें :