Tokyo Olympics: गोल्ड की उम्मीद खत्म, अब 'कांस्य' के लिए लड़ेगी पीवी सिंधु

Last Updated: शनिवार, 31 जुलाई 2021 (19:24 IST)
टोक्यो: पिछले रियो ओलम्पिक की रजत विजेता और मौजूदा विश्व चैंपियन पीवी सिंधु को शनिवार को चीनी ताइपे की ताई जू यिंग के हाथों सेमीफाइनल में 18-21, 12-21 से का सामना करना पड़ा और इस हार के बाद सिंधु अब टोक्यो ओलम्पिक में कांस्य पदक के लिए चीन की ही बिंगजिआओ के खिलाफ खेलेंगी।


जू यिंग ने इस जीत के साथ फाइनल में स्थान बना लिया। सिंधु 40 मिनट में इस हार के बाद अब अपने पिछले रियो ओलम्पिक में जीते रजत पदक का बचाव नहीं कर पाएंगी।


सिंधु और जू यिंग के बीच पहले गेम में कड़ा संघर्ष देखने को मिला। दोनों एक एक अंक के लिए कड़ा संघर्ष करती रहीं। सिंधु ने एक समय पहले गेम में 16-14 की बढ़त बना ली लेकिन जू यिंग ने वापसी करते हुए स्कोर 17-17 से बराबर कर दिया। पहले गेम में 18-18 के स्कोर पर सिंधु का रिटर्न नेट में उलझा और जू यिंग 19-18 से आगे हो गयीं। मैच में 20-18 के स्कोर पर जू यिंग ने जोरदार स्मैश लगाया और पहला गेम 21-18 से जीत लिया।

दूसरे गेम में जू यिंग पूरी तरह से हावी रहीं और मनमाने ढंग से अपनी बढ़त को आगे बढ़ाती रहीं। सिंधु ने इस गेम में ज्यादा गलतियां कीं और जू यिंग की बढ़त मजबूत होती रही। सिंधु हताश होती रहीं और मौका उनके हाथ से निकलता रहा। जू यिंग को दूसरे गेम में शटल के नेट के ऊपरी हिस्से से टकराकर कोर्ट में गिर जाने से मिले अंकों का भी फायदा मिला और उन्होंने दूसरा गेम 14-8, 17-9 की बढ़त बनाते हुए 21-12 से जीतकर फाइनल में स्थान बना लिया। पहला गेम 21 मिनट और दूसरा गेम 19 मिनट तक चला।



और भी पढ़ें :