0

साल 2021 में टोक्यो में लहराया तिरंगा, ओलंपिक और पैरालंपिक में मिली सर्वश्रेष्ठ पदक तालिका

शुक्रवार,दिसंबर 31, 2021
0
1
टोक्यो। रविवार को टोक्यो पैरालंपिक (Paralympics Tokyo 2020) का भव्य समापन समारोह (Closing Ceremony) हुआ। इस दौरान गोल्ड और ब्रॉन्ज मेडलिस्ट 19 वर्षीय निशानेबाज अवनि लेखरा (Avani Lekhara) ने तिरंगा लहराकर भारतीय दल का नेतृत्व किया।
1
2
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने टोक्यो पैरालंपिक में स्वर्ण पदक जीतने पर कृष्णा नागर को बधाई देते हुए रविवार को कहा कि उनकी इस उपलब्धि ने प्रत्‍येक भारतीय के चेहरे पर मुस्कान ला दी है।
2
3
टोक्यो। जन्माष्टमी के पर्व पर टोक्यो पैरालंपिक से भारत के लिए एक खुशखबर आई। अवनि लेखरा 10 मीटर एयर राइफल मुकाबले में गोल्ड जीता। अवनि लेखना की इस शानदार जीत पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बधाई दी। भारत के योगेश कथुनिया ने टोक्यो पैरालिंपिक में ...
3
4
टोक्यो। भारत के निषाद कुमार ने रविवार को यहां टोक्यो पैरालंपिक की पुरूषों की ऊंची कूद टी47 स्पर्धा में एशियाई रिकार्ड के साथ रजत पदक जीता जबकि चक्का फेंक एथलीट विनोद कुमार ने भी एशियाई रिकार्ड बनाकर पुरूषों की एफ52 स्पर्धा में कांस्य पदक अपने नाम ...
4
5
जापान की राजधानी टोक्यो में आगामी 24 अगस्त से शुरू हो रहे पैरालंपिक खेलों में रियो 2016 के स्वर्ण पदक विजेता मरियप्पन थंगावेलु भारतीय पैरालंपिक समिति (पीसीआई) के महासचिव गुरशरण सिंह के साथ भारत के ध्वजवाहक होंगे।
5
6
प्रत्येक वर्ष 29 अगस्त को आयोजित होने वाला राष्ट्रीय खेल पुरस्कार समारोह इस साल देर से कराया जायेगा क्योंकि सरकार चाहती है कि चयन पैनल टोक्यो पैरालंपिक में भाग लेने वाले पैरा खिलाड़ियों के प्रदर्शन को भी इनमें शामिल करे।
6
7
भारतीय सेना के ‘मिशन ओलंपिक विंग’ के तहत 450 से अधिक सीनियर खिलाड़ी फिलहाल ट्रेनिंग कर रहे हैं।
7
8
शोर्ड मारिन ने ओलंपिक इतिहास रचने में अपनी भूमिका निभा दी है लेकिन महिला हॉकी टीम के पूर्व कोच 2018 में राष्ट्रमंडल खेलों में निराशाजनक प्रदर्शन के बाद पुरुष टीम से हटाकर महिला टीम की कमान सौंपे जाने को ‘अपमानजनक’ मानते हैं।
8
9
41 साल बाद भारतीय हॉकी टीम ओलंपिक में पदक जीतने में सफल हुई। बेहतर होता कि यह गोल्ड मेडल होता लेकिन बेल्जियम की टीम के सामने भारतीय हॉकी टीम कमतर साबित हुई। अब इस कमी को पूरी करने के लिए कोच समेत खिलाड़ियों ने कमर कस ली है।
9
10
ओलंपिक में भारत की स्वर्णिम यात्रा की शुरुआत 1928 में एम्सटर्डम ओलंपिक से हुई जब भारतीय हॉकी टीम ने पहली बार इन खेलों में हिस्सा लिया।
10
11
पूर्व विश्व रिकॉर्ड धारक और राष्ट्रीय भाला फेंक कोच उवे होन का अनुबंध तोक्यो ओलंपिक के साथ खत्म हो गया है और अब वह वापस लौटेंगे क्योंकि अनुबंध बढ़ाए जाने की संभावना नहीं है।
11
12
भारत 7 नहीं 10 मेडल जीत सकता था अगर कुछ खिलाड़ियों का ध्यान नखरे दिखाने से ज्यादा उनके खेल पर होता।
12
13
ओलंपिक में भाग लेने के लिए विनेश फोगट टोक्यो सबसे आखिर में गई थी। कोच ने कहा था कि वह स्पष्ट सोच के साथ मेडल जीतने गई है लेकिन कुश्ती की मैट पर उतरते साथ ही पहले ही दिन उनके सफर का अंत हो गया।
13
14
टोक्यो ओलंपिक में सिर्फ एक बार ही भारत पाकिस्तान का मुकाबला देखा जा सका।
14
15
नीरज चोपड़ा टोक्यो से मेडल लेकर आए और लेकिन भाला फेंक स्पर्धा में दो बार के गोल्ड मेडलिस्ट देवेंद्र झाझरिया ने पिछले महीने अपना ही रिकॉर्ड टोक्यो पैरालंपिक के क्वालिफाय राउंड में तोड़ दिया था उनकी चर्चा भी नहीं हुई।
15
16
इंसान अगर बड़ी उपलब्धि पा लेता है तो वह एक सपने की तरह प्रतीत होता है। नीरज चोपड़ा के साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है।
16
17
टोक्यो ओलंपिक खेलों 2020 में भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतकर देश का नाम रौशन करने वाले एथलीट नीरज चोपड़ा सहित अन्य भारतीय ओलंपिक दल का यहां सोमवार शाम को एक अभिनन्दन समारोह में भव्य स्वागत किया गया।
17
18
टोक्यो ओलंपिक खेलों 2020 में भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीतकर देश का नाम रौशन करने वाले एथलीट नीरज चोपड़ा सहित अन्य भारतीय ओलंपिक दल का यहां सोमवार को दिल्ली के हवाई अड्डे पहुंचने पर भव्य स्वागत किया गया।
18
19
हॉकी के बाद जिस खेल में भारत के लिए सबसे ज्यादा मेडल आए हैं वह है कुश्ती। भारत कुश्ती में अब तक 6 मेडल जीत चुका है। लंदन से लेकर टोक्यो, पिछले तीन ओलंपिक में भारत ने कम से कम कुश्ती में 1 पदक जरूर जीता है।
19