2007 में थे बॉलब्वॉय, 14 साल बाद अपनी टीम को टी-20 विश्वकप में अविजित बनाया नंबर 1 टी-20 बल्लेबाज कप्तान बाबर आजम ने

टी-20 विश्वकप में 5 लगातार जीतने वाले कप्तान और नंबर 1 टी-20 बल्लेबाज बाबर आजम कभी थे बॉलब्वॉय

Last Updated: सोमवार, 8 नवंबर 2021 (16:43 IST)
हमें फॉलो करें
किसी ने सोचा भी नहीं था कि 2021 सेमीफाइनल से पहले जिस टीम को हरा पाना किसी भी टीम के लिए मुमकिन नहीं होगा उस टीम का नाम होगा। चैंपियन्स ट्रॉफी 2017 की जीत के खुमार में पाकिस्तान अचानक रसातल में चला गया था।

एशिया कप 2018 के फाइनल तक में ना पहुंच पाना और फिर वनडे विश्वकप 2019 में टीम का लचर प्रदर्शन रहा। फिर पाकिस्तान ने के हाथों में टीम की कमान सौंपी। बाबर आजम ने ना केवल अपनी बल्लेबाजी की धार तेज की बल्कि कप्तानी में भी टीम चयन और परिस्थितियों के मुताबिक टीम को ढाला है।

दिलचस्प बात यह है कि साल 2007 में बाबर आजम बॉल ब्वाए थे। इस साल पाकिस्तान की टीम टी-20 विश्वकप के फाइनल में पहुंची थी लेकिन एशियाई चिर प्रतिद्वंदी भारत के हाथों उसे 5 रनों से हार का सामना करना पड़ा था।

तब शोएब मलिक पाकिस्तान के कप्तान थे जो अब 2021 में बाबर आजम की कप्तानी में पाकिस्तान टीम के लिए खेल रहे हैं। इस दौरान बाबर आजम लाहौर के गद्दाफी स्टेडियम में तीन मील पैदल चलकर अपने प्रेरणास्रोत खिलाड़ियों को खेलने के लिए पहुंचते थे। दक्षिण अफ्रीका और पाकिस्तान से हुए एक टेस्ट मैच के दौरान वह बाउंड्री के बाहर बॉल ब्वाए की भूमिका निभाते हुए भी दिखे थे।
यही नहीं पांचवे वनडे में उन्होंने बॉल ब्वाए बनकर जेपी डुमिनि का कैच भी सीमा पार खड़े होकर लिया था। इसकी तारीफ उस वक्त कमेंटेटर्स ने भी की थी। इस वाक्ये का वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हुआ था।
बल्लेबाजी की बात करें तो बाबर आजम इस टी20 विश्वकप में 4 अर्धशतक लगा चुके हैं। वह सिर्फ तीसरे बल्लेबाज हैं जो टी-20 विश्वकप में 4 अर्धशतक लगा चुके हैं। उनके इस प्रदर्शन के कारण ही पाकिस्तान लगातार 5 मैच जीत चुकी है। बाबर आजम इस विश्वकप के अब तक सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज हैं। वह अब तक 5 मैचों में 264 रन बना चुके हैं।

कप्तानी की बात करें तो उन्हें अपने खिलाड़ियों पर इतना भरोसा है कि उन्होंने भारत के खिलाफ जीत के बाद एक बार भी अपने खिलाड़ियों को नहीं बदला है। सेमीफाइनल में भी वह शायद ही अपनी टीम में बदलाव करें। पाकिस्तान का अगला मुकाबला ऑस्ट्रेलिया से 12 नवंबर को होगा।

सेमीफाइनल में भी इसी लय को जारी रखने की कोशिश करेंगे: बाबर आजम

आत्मविश्वास से भरी पाकिस्तानी टीम के कप्तान बाबर आजम ने टी20 विश्व कप के सुपर 12 चरण में पांचवीं जीत दर्ज करने के बाद कहा कि वे 11 नवंबर को आस्ट्रेलिया के खिलाफ होने वाले सेमीफाइनल में भी इसी लय को जारी रखने का प्रयास करेंगे।

स्कॉटलैंड पर रविवार को 72 रन की बड़ी जीत दर्ज करने के बाद कप्तान आजम ने कहा, ‘‘हम एक इकाई की तरह खेल रहे हैं और हर किसी को प्रत्येक पर पूरा भरोसा है। हम जिस तरह का क्रिकेट खेल रहे हैं, उससे हमारा आत्मविश्वास बढ़ा हुआ है। ’’

आजम ने 66 रन की अर्धशतकीय पारी खेली जबकि अनुभवी शोएब मलिक ने अंत में 18 गेंद में छह छक्कों और एक चौके जड़ित 54 रन की ताबड़तोड़ पारी से चार विकेट पर 189 रन का स्कोर खड़ा किया जिसके जवाब में स्कॉटलैंड की टीम छह विकेट पर 117 रन ही बना सकी।मोहम्मद हफीज ने भी अहम मोड़ पर आजम का साथ निभाया और 31 रन का योगदान दिया।

आजम ने कहा, ‘‘हमारी योजना पहले बल्लेबाजी कर पावरप्ले का बढ़िया इस्तेमाल करने की थी लेकिन हम ऐसा नहीं कर सके। पर फिर मैंने हफीज और शोएब के साथ भागीदारी की। शोएब ने जिस तरह से पारी का अंत किया, उससे उनका अनुभव दिखता है जिसके लिये वह मशहूर हैं। ’’

उन्होंने सेमीफाइनल में आस्ट्रेलिया से भिड़ने के बारे में कहा, ‘‘हम जिस लय में हैं, उसे जारी रखते हुए खेलने का प्रयास करेंगे। निश्चित रूप से दुबई सर्वश्रेष्ठ स्टेडियमों में से एक है। खिलाड़ी के तौर पर जब आप दर्शकों के सामने खेलते हो जो आपके लिये चीयर करते हैं तो इससे आपका आत्मविश्वास बढ़ता है। ’’

मलिक को ‘मैन आफ द मैच’ चुना गया, जिन्होंने कहा, ‘‘पिछले मैचों में हमने देखा कि अगर हम शुरूआती विकेट नहीं गंवाये तो अंत में बड़ा स्कोर बनाने का मौका रहता है। मैं अच्छी फार्म में हूं लेकिन मैं निरंतर अच्छा करके टीम की मदद करना चाहता हूं। फिट महसूस कर रहा हूं। हमें (सेमीफाइनल में) अपना सर्वश्रेष्ठ करना होगा। ’’

वहीं स्कॉटलैंड के कप्तान काइल कोएत्जर ने कहा, ‘‘हमने आज पावरप्ले में अच्छी गेंदबाजी की लेकिन जब पाकिस्तान जैसा बल्लेबाजी लाइन अप हो तो वे किसी न किसी चरण पर बाउंड्री लगायेंगे ही। यह किसी भी टीम के लिये बड़ा मौका है लेकिन एसोसिएट सदस्य के लिये यह काफी महत्वपूर्ण है। उम्मीद करते हैं कि हमने स्कॉटलैंड में काफी लोगों को प्रेरित किया होगा। ’’



और भी पढ़ें :