टीम इंडिया का एक भी खिलाड़ी टी-20 विश्वकप की टूर्नामेंट टीम में शामिल नहीं, बाबर हैं कप्तान

Last Updated: सोमवार, 15 नवंबर 2021 (17:09 IST)
भारत के लिए कितना खराब गया है यह इस बात से ही पता लग जाता है कि भारत का कोई भी खिलाड़ी रविवार को समाप्त हुए टी-20 विश्वकप के में नहीं है। वहीं पाकिस्तान के कप्तान और टूर्नामेंट में सर्वाधिक 303 रन बनाने वाले को इस टीम का कप्तान नियुक्त किया गया है।

भारत का कोई भी क्रिकेटर आईसीसी टी20 विश्व कप की ‘टूर्नामेंट की टीम’ में शामिल नहीं है जबकि श्रीलंका और दक्षिण अफ्रीका के खिलाड़ियों को पाकिस्तान के बाबर आजम की अगुवाई वाली इस 12 सदस्यीय टीम में जगह मिली है।

भारतीय टीम टूर्नामेंट के ग्रुप चरण से आगे नहीं बढ़ पायी थी। उसे पाकिस्तान और न्यूजीलैंड से हार का सामना करना पड़ा। इसके बाद उसने अफगानिस्तान, स्कॉटलैंड और नामीबिया को हराया था।लेकिन अंतिम 3 मैचों में केएल राहुल ने लगातार 3 अर्धशतक जड़े थे उस प्रदर्शन को भी दरकिनार किया गया है।केएल राहुल ने 5 मैचों में 48 की औसत से 194 रन बनाए।
इसके अलावा भारतीय टीम का कोई गेंदबाज भी टूर्नामेंट की टीम में शामिल नहीं है। भारत की ओर से सर्वाधिक विकेट लेने वाले दो गेंदबाज थे जसप्रीत बुमराह और रविंद्र जड़ेजा उनको भी टीम में शामिल नहीं किया गया।
ज्यूरी सदस्यों को कोई भी भारतीय खिलाड़ी इस टीम में जगह बनाने के लायक नहीं लगा जबकि दक्षिण अफ्रीका के एडेन मार्कराम और एनरिच नोर्किया तथा श्रीलंका के चरित असलंका और वानिंदु हसरंगा को इसमें चुना गया है। ये दोनों टीमें भी सेमीफाइनल में जगह नहीं बना पायी थी।

चैंपियन आस्ट्रेलिया, उप विजेता न्यूजीलैंड, सेमीफाइनल में जगह बनाने वाले इंग्लैंड और पाकिस्तान के खिलाड़ियों को टीम में चुना गया है।पहली बार चैंपियन बने आस्ट्रेलिया की तरफ से सलामी बल्लेबाज और टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी डेविड वार्नर, लेग स्पिनर एडम जंपा और तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड को टीम में लिया गया है।
इंग्लैंड के जोस बटलर विकेटकीपर और मोईन अली आलराउंडर के रूप में टीम में शामिल हैं जबकि न्यूजीलैंड से ट्रेंट बोल्ट ने इसमें जगह बनायी है। पाकिस्तान के बाबर को टीम का कप्तान बनाया गया है जबकि टूर्नामेंट में सर्वाधिक विकेट लेने वाले हसरंगा को भी टीम में लिया गया है।
ज्यूरी के एक सदस्य, वेस्टइंडीज के पूर्व तेज गेंदबाज इयान बिशप ने कहा, ‘‘प्रत्येक टीम के चयन की तरह इस टीम पर भी चर्चा होगी। पैनल इस तरह की चर्चा का सम्मान करता है। इस तरह के प्रतिस्पर्धी टूर्नामेंट से टीम का चयन करना बेहद मुश्किल था। चयन का मुख्य आधार सुपर 12 से फाइनल तक के मैच रहे। ’’
टीम इस प्रकार है : डेविड वार्नर (आस्ट्रेलिया), जोस बटलर (विकेटकीपर, इंग्लैंड), बाबर आजम (कप्तान, पाकिस्तान), चरित असलंका (श्रीलंका), एडेन मार्कराम (दक्षिण अफ्रीका), मोईन अली (इंग्लैंड), वानिंदु हसरंगा (श्रीलंका), एडम जंपा (आस्ट्रेलिया), जोश हेजलवुड (आस्ट्रेलिया), ट्रेंट बोल्ट (न्यूजीलैंड), एनरिच नोर्किया (दक्षिण अफ्रीका)। 12वां खिलाड़ी - शाहीन अफरीदी (पाकिस्तान)।



और भी पढ़ें :