सेंसेक्स 453 अंक उछलकर नए रिकॉर्ड स्तर पर, निफ्टी पहुंचा 18100 पर

पुनः संशोधित बुधवार, 13 अक्टूबर 2021 (16:52 IST)
मुंबई। शेयर बाजारों में तेजी का सिलसिला लगातार पांचवें कारोबारी सत्र बुधवार को भी जारी रहा और सेंसेक्स 453 अंक उछलकर नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 169.80 अंक यानी 0.94 प्रतिशत की तेजी के साथ 18,161.75 अंक पर बंद हुआ।
वैश्विक बाजारों में तेजी के रुख के बीच सूचकांक में मजबूत हिस्सेदारी रखने वाली कंपनियों रिलायंस इंडस्ट्रीज, आईटीसी और इन्फोसिस की अगुवाई में यह तेजी आई। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स एक समय कारोबार के दौरान 60,836.63 अंक तक चला गया था। अंत में यह 452.74 अंक यानी 0.75 प्रतिशत उछलकर 60,737.05 के रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुआ।

इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 169.80 अंक यानी 0.94 प्रतिशत की तेजी के साथ 18,161.75 अंक पर बंद हुआ। कारोबार के दौरान यह रिकॉर्ड 18,197.80 अंक तक चला गया था। सेंसेक्स के शेयरों में 5 प्रतिशत से अधिक की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में महिंद्रा एंड महिंद्रा रही। इसके अलावा आईटीसी, एलएंडटी, टेक महिंद्रा, टाइटन और टाटा स्टील में भी प्रमुख रूप से तेजी रही।

दूसरी तरफ मारुति, एचयूएल, नेस्ले इंडिया, एक्सिस बैंक और एसबीआई में गिरावट रही। रिलायंस सिक्योरिटीज के रणनीति मामलों के प्रमुख विनोद मोदी ने कहा, घरेलू शेयर बाजारों में तेजी बनी रही और वैश्विक स्तर पर मिलेजुले रुख के बीच मानक सूचकांक सेंसेक्स और निफ्टी नए रिकॉर्ड स्तर पर बंद हुए।

वित्तीय कंपनियों और रिलायंस इंडस्ट्रीज में तेजी से बाजार को समर्थन मिला। टाटा समूह के शेयर खासकर टाटा मोटर्स पर निवेशकों की नजर रही। कंपनी की इलेक्ट्रिक वाहन इकाई में टीपीजी के एक अरब डॉलर के निवेश की खबर से इसके शेयर में तेजी रही।

एशिया के अन्य बाजारों में शंघाई और सियोल लाभ में रहे, जबकि टोक्यो में गिरावट रही। यूरोप के प्रमुख बाजारों में भी दोपहर के कारोबार में सकारात्मक रुख रहा। इस बीच, अंतरराष्ट्रीय तेल मानक ब्रेंट क्रूड 0.54 प्रतिशत टूटकर 82.97 डॉलर प्रति बैरल पर आ गया।(भाषा)



और भी पढ़ें :