Euro 2020: पेनल्टी से चूके किलियन एमबाप्पे, स्विट्ज़रलैंड ने फ्रांस को हराकर क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह

पुनः संशोधित मंगलवार, 29 जून 2021 (13:59 IST)
बीते दिन में और फ्रांस के बीच एक ऐसा मुकाबला खेला गया था, जिसकी चर्चा अभी तक चल रही है। यूरो कप के प्री-क्वार्टर फाइनल मुकाबले में स्विट्ज़रलैंड ने सभी को हैरानी में डालते हुए विश्व चैंपियन फ्रांस को हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई।


स्विट्ज़रलैंड के गोलकीपर यां सोमेर ने पेनल्टी शूटआउट में किलियन एमबाप्पे की पेनल्टी किक बचाकर फ्रांस को यूरोपीय फुटबॉल चैंपियनशिप से बाहर कर दिया। स्विट्ज़रलैंड ने बुकारेस्ट में खेले गए मुकाबले के अतिरिक्त समय में 3-3 समय में ड्रॉ के बाद शूटआउट 5-4 से जीत लिया।


जानकारी के लिए बता दें कि, फ्रांस ने 15 जुलाई 2018 को क्रोएशिया को 4-2 से हराकर फुटबॉल वर्ल्ड कप का खिताब अपने नाम किया था, लेकिन इस बार यूरो कप में टीम का सफर स्विट्ज़रलैंड के खिलाफ मिली हार के बाद आगे नहीं बढ़ सका।

एमबाप्पे से हो गई चूक




स्विट्ज़रलैंड के खिलाफ खेले गए मुकाबले में किलियन एमबाप्पे का पेनल्टी चूकना फुटबॉल जगत में चर्चा का एक बड़ा विषय बना हुआ है। अब ऐसा हो भी क्यों न, सिर्फ 22 साल उम्र में एमबाप्पे ने कई उपलब्धियां अपने नाम दर्ज करवा ली हैं। वर्ल्ड कप 2018 में जब फ्रांस ने ट्रॉफी पर कब्ज़ा जमाया था, एमबाप्पे भी टीम का हिस्सा थे। इतना ही नहीं उनको बेस्ट यंग प्लेयर का अवार्ड भी मिला था। वह चार लीग के विजेता और तीन लीग के टॉप गोल स्कोरर भी हैं।

अपनी बेटी के जन्म के कारण ग्रुप चरण के बीच में अवकाश लेने वाले सोमेर ने दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ियों में से एक किलियन एमबाप्पे को पेनल्टी पर गोल करने से रोक दिया। मैच के 90 मिनट का नतीजा 3-3 पर समाप्त हुआ और इसके बाद परिणामस्वरूप मैच अतिरिक्त समय तक बढ़ा दिया गया। कोई भी टीम अतिरिक्त समय में गतिरोध को नहीं तोड़ पाई और मुकाबला पेनल्टी शूटआउट में आगे बढ़ा।

स्विट्ज़रलैंड ने अपनी पांचों पेनल्टी पर गोल किए। फ्रांस की तरफ से एमबाप्पे आखिरी पेनल्टी लेने के लिए आए, लेकिन सोमेज ने अपने दाईं तरफ डाइव लगाकर उसे बचा दिया। इसके बाद पिछले विश्व कप फाइनल में गोल करके सुपरस्टार बने एमबाप्पे ही नहीं बल्कि पूरा फ्रांस निराश हो गया।



और भी पढ़ें :