सीनियर टीम का जूनियर टीम ने लिया बदला, बेल्जियम को हराकर भारत जूनियर विश्व कप हॉकी के सेमीफाइनल में

Last Updated: गुरुवार, 2 दिसंबर 2021 (11:55 IST)
हमें फॉलो करें
भुवनेश्वर: गत चैंपियन ने की कड़ी चुनौती पर बुधवार को 1-0 से काबू करते हुए के सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया।गौरलतब है कि बेल्जियम की सीनियर टीम ने इस साल ओलंपिक्स में भारत को 5-2 के बड़े अंतर से हराकर गोल्ड का सपना चकनाचूर कर दिया था। यह जीत उस हार पर एक मरहम की तरह है। हालांकि इसके बाद भारत ने 5-4 से जर्मनी को ब्रॉंज मेडल मैच में हराया था।

पहला क्वार्टर गोलरहित रहने के बाद मैच का एकमात्र महत्वपूर्ण गोल शारदानंद तिवारी ने 21वें मिनट में पेनल्टी कार्नर पर किया और इस बढ़त को अंत तक बरकरार रखा।

मुकाबला काफी कड़ा रहा और दोनों टीमों ने जीत हासिल करने के लिए अपना सबकुछ दांव पर झोंक दिया। मैच में संघर्ष का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दूसरे क्वार्टर के गोल को छोड़कर दोनों टीमें बाकी तीन क्वार्टर में कोई गोल नहीं कर सकीं।

भारत का सेमीफाइनल में तीन दिसम्बर को जर्मनी के साथ मुकाबला होगा जिसने एक अन्य क्वार्टरफाइनल में स्पिन के खिलाफ निर्धारित समय तक मुकाबला 2-2 से बराबर रहने के बाद पेनल्टी शूट आउट में 3-1 से जीत हासिल की।

तीन दिसम्बर को ही पहला सेमीफाइनल फ़्रांस और अर्जेंटीना के बीच खेला जाएगा। फ़्रांस ने क्वार्टरफाइनल में मलेशिया को 4-0 से और अर्जेंटीना ने हॉलैंड को 2-1 से पराजित किया।

मुकाबला काफी कड़ा रहा और दोनों टीमों ने जीत हासिल करने के लिए अपना सबकुछ दांव पर झोंक दिया। मैच में संघर्ष का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि दूसरे क्वार्टर के गोल को छोड़कर दोनों टीमें बाकी तीन क्वार्टर में कोई गोल नहीं कर सकीं।

भारत का सेमीफाइनल में तीन दिसम्बर को जर्मनी के साथ मुकाबला होगा जिसने एक अन्य क्वार्टरफाइनल में स्पिन के खिलाफ निर्धारित समय तक मुकाबला 2-2 से बराबर रहने के बाद पेनल्टी शूट आउट में 3-1 से जीत हासिल की।

तीन दिसम्बर को ही पहला सेमीफाइनल फ़्रांस और अर्जेंटीना के बीच खेला जाएगा। फ़्रांस ने क्वार्टरफाइनल में मलेशिया को 4-0 से और अर्जेंटीना ने हॉलैंड को 2-1 से पराजित किया।

शूटआउट में स्पेन को 3-1 से हरा कर जर्मनी सेमीफाइनल में

छह बार की विश्व विजेता जर्मनी की जूनियर पुरुष हॉकी टीम बुधवार को क्वार्टर फाइनल मुकाबले में स्पेन को शूटआउट में 3-1 से हरा कर जूनियर पुरुष हॉकी विश्व कप 2021 के सेमीफाइनल में प्रवेश करने वाली पहली टीम बन गई।

भुवनेश्वर के कलिंग स्टेडियम में सुबह 10.30 बजे खेला गया पहला क्वार्टर फाइनल मैच काफी रोमांचक और 2-2 से बराबर रहा, लेकिन जर्मनी ने शूटआउट में स्पेन से आगे निकल कर बाजी मार ली। मैच ड्रॉ होने के बाद हुए शूटआउट में जर्मनी ने तीन गोल दागे, जबकि स्पेन महज एक ही गोल कर पाया।

दोनों टीमों ने अच्छी शुरुआत की, लेकिन जर्मनी पांचवें मिनट में गोल दाग कर 1-0 की बढ़त लेने में कामयाब रहा। क्रिस्टोफर कुटर ने पेनल्टी स्ट्रोक के जरिए यह गोल दागा, हालांकि इसके कुछ ही मिनटों बाद स्पेन ने गोल दाग कर स्कोर 1-1 से बराबर कर दिया। इग्नासिओ अबाजो ने 11वें मिनट में यह गोल किया। इसके बाद दोनों ही टीमों ने एक-दूसरे को कड़ी चुनौती दी और तीसरे क्वार्टर तक गोल नहीं करने दिया।

चाैथा क्वार्टर भी गोल रहित जाता हुआ दिख रहा था, लेकिन स्पेन के एडवार्ड दे इग्नैशियो-सिमो ने 59वें और जर्मनी के मैसी फैंड्ट के 60वें मिनट में गोल दागा। परिणामस्वरूप मैच 2-2 की बराबरी पर समाप्त हुआ। इसके बाद विजेता घोषित करन के लिए शूटआउट कराया गया, जिसमें जर्मनी ने चार में से तीन और स्पेन ने चार में से एक गोल दागा। जर्मनी की ओर से पॉल स्मिथ, मिशेल स्ट्रूथॉफ, हेंस मुलर ने शूटआउट में कामयाब रहे, जबकि स्पेन की ओर से जेरार्ड क्लैप्स ही सफल रहे।



और भी पढ़ें :