चैत्र पूर्णिमा है आज, जानिए व्रत की विधि

किसी भी व्रत व त्यौहार की पूजा विधिनुसार न हो तो उसका फल प्राप्त नहीं होता। ऐसे में व्रत व पूजा की विधि के बारे में जानना बहुत आवश्यक है। चैत्र पूर्णिमा बहुत ही शुभ फल देने वाली मानी जाती है। चैत्र पूर्णिमा का व्रत व्रती को निम्न विधि से रखना चाहिए....


सबसे पहले पूर्णिमा के दिन स्नानादि से निबट कर व्रत का संकल्प लेना चाहिए।

इस दिन रात्रि के समय चंद्रमा की विधि-विधान से पूजा करनी चाहिए एवं पूजा के पश्चात चंद्रमा को जल अर्पित करना चाहिए। चंद्रमा के पूजा के पश्चात अन्न से भरे घड़े को किसी योग्य ब्राह्मण या फिर किसी गरीब जरुरतमंद को दान करना चाहिए। मान्यता है कि ऐसा करने से चंद्र देव प्रसन्न होते हैं और व्रती को मनोवांछित फल मिलता है। व्रती की मनोकामनाएं पूर्ण होती है।



और भी पढ़ें :