अखिलेश यादव पर योगी के मंत्री का निशाना, ट्‍वीट करने से नहीं मिलती है सत्ता

हिमा अग्रवाल| Last Updated: गुरुवार, 5 अगस्त 2021 (22:38 IST)
हमें फॉलो करें
मेरठ। पहुंचे उत्तर प्रदेश सरकार के नगर विकास ने समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को घेरते हुए कहा कि वे सोकर उठते हैं और एक ट्वीट दाग देते हैं, ऐसा करने से वे सत्ता पाना चाहते हैं, तो यह संभव नहीं है। मात्र ट्वीट करने मात्र से जनता सीटें नहीं देने वाली है। इशारों में उन्होंने कहा कि जनता का भरोसा जीतना होता है तो धरातल पर उतरना होगा, जो सपा ने नहीं किया है।
मेरठ में नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन ने 62 करोड़ 22 लाख की 67 परियोजनाओं का चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय में लोकार्पण व शिलान्यास किया। इस तरह अवसर पर वह अपनी पार्टी की चुनावी जमीन तैयार करने से भी नहीं चूके। उन्होंने कहा कि 2022 में एक बार फिर से उत्तर-प्रदेश में भाजपा की सरकार फिर बनेगी।

मंत्री ने विपक्ष पर निशाना साधते हुए कहा कि मुंगेरीलाल के हसीन सपने तो कोई भी देख सकता है। जब प्रदेश में अखिलेश की सरकार थी तब उन्होंने क्या किया। उन्होंने विपक्ष की भूमिका का कभी निर्वाहन नहीं किया। सिर्फ सोकर उठे और एक ट्वीट कर दिया, ऐसा करने से जनता का विश्वास नहीं जीता जा सकता है।

अगर वे सोचते हैं कि जनता उन्हें सीटें दे देगी, यह मात्र कोरी कल्पना होगी। जनता सजग है वह भला-बुरा जानती है। इस बार भाजपा 300 से अधिक सीटों के साथ सरकार बनाएगी, जनता का विश्वास मोदीजी और योगीजी के साथ है।

इस दौरान मंत्री ने कहा कि नगरीय क्षेत्र में जनजीवन सुगम बनाएंगे। मूलभूत सुविधाएं प्रदान कराने का प्रयास कर रहे हैं। स्वच्छता सर्वेक्षण में भी मेरठ आगे रहेगा। इसके बाद मंत्री लोहिया नगर में 3.5 करोड़ के कूड़ा निस्तारण प्लांट का शुभारंभ कर रहे हैं।
ALSO READ:

Retrospective Tax : मोदी सरकार का बड़ा फैसला, खत्म होगा साल 2012 का ये टैक्स कानून, IT एक्ट में बदलाव
62 करोड़ 22 लाख की इन परियोजनाओं में आरसीसी सड़क, नाली व डेंट कार्य, नाले पर निर्माण कार्य, टाइल्स, इंटरलॉकिंग, पटरी, फुटपाथ, नाला निर्माण, शौचालय निर्माण, गंगाजल वाटर ट्रीटमेंट प्लांट, सीवर हाउस कनेक्टिंग चैंबर, रीबोर नलकूप आदि योजनाएं शामिल हैं। जल्दी ही उत्तर प्रदेश में 700 इलेक्ट्रानिक बसों का संचालन होगा, जिसमें से 50 बसें मेरठ को मिलेंगी।
मेरठ को कूड़े से मुक्ति दिलाने के लिए लोहिया नगर में मंत्री ने कूड़ा निरस्तारण प्लांट का शुभारंभ किया। कूड़े निस्तारण प्लांट को बनाने के लिए साढ़े तीन करोड़ की लागत लगी है, यह प्लांट प्रतिदिन 600 टन कूड़ा निस्तारण करने की क्षमता रखता है।

मेरठ के लोहिया नगर में कूड़े के गगनचुंबी अंबार लगे हुए है, इस प्रोजेक्ट के शुरू होने से जल्दी ही मेरठ वासियों को गंदगी से छुटकारा मिलेगा। वहीं इस प्लांट से जो कंपोस्ट खाद बनेगी, जो खेती के लिए वरदान साबित होगी। जो आरडीएफ यहां से निकलेगा वो एक प्रकार का फ्यूल होगा, जो कंपनियों को प्रदान किया जाएगा।



और भी पढ़ें :