पिंजरे में कैद गुलदार को ग्रामीणों ने जिंदा जला दिया

एन. पांडेय| Last Updated: बुधवार, 25 मई 2022 (09:17 IST)
हमें फॉलो करें
देहरादून। जिले के नागदेव रेंज के पाबौ ब्लॉक के सपलोड़ी गांव में पिंजरे में कैद एक गुलदार को ग्रामीणों ने जिंदा जलाकर मार डाला। पौड़ी गढ़वाल के डीएफओ मुकेश कुमार ने बताया कि मृतक गुलदार का पीएम कर शव को दफनाकर नष्ट कर दिया गया है। ग्रामीणों के खिलाफ नियमानुसार कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

नागदेव रेंज के पाबौ ब्लॉक के सपलोड़ी गांव में बीती 15 मई को गुलदार ने जंगल में काफल लेने गई एक महिला को मार दिया था जिसके बाद से यहां पर वन विभाग ने 2 पिंजरे लगाए थे। इसी बीच बीती सोमवार की रात के समय इस गांव के पास स्थित कुलमोरी गांव में गुलदार ने आंगन में एक महिला को हमला कर घायल कर दिया था। लगातार हो रहे गुलदार के हमलों से इस क्षेत्र के गांव के लोगों में दहशत बनी हुई थी।

डीएफओ मुकेश कुमार ने बताया कि मंगलवार की सुबह वन विभाग को सपलोड़ी गांव में गुलदार के पिंजरे में कैद होने की सूचना मिली थी जिस पर मौके के लिए टीम रवाना हुई। टीम के मौके पर पहुंचने पर टीम को ग्रामीणों के आक्रोश का सामना भी करना पड़ा। बताया गया कि इसी बीच 4 से 5 गांव के आक्रोशित ग्रामीणों ने को जिंदा जलाकर मार डाला। बताया गया कि गुलदार के शव का पीएम कर नष्ट कर दिया गया है और गांव वालों के खिलाफ मामले में कानूनी कार्रवाई की जा रही है।
ग्राम प्रधान समेत 150 लोगों के खिलाफ लिखाया मुकदमा : पौड़ी जिले के सपलोडी गांव में गुलदार को जिंदा जला देने के मामले में वन विभाग ने सपलोड़ी के ग्राम प्रधान अनिल कुमार समेत देवेन्द्र, हरिसिंह रावत, सरिता देवी, विक्रम सिंह, कैलाश देवी सहित सपलोड़ी, सरणा व कलमोरी गांव के करीब 150 अज्ञात ग्रामीणों के विरुद्ध सरकारी कार्य में बाधा, वनकर्मियों पर हमला कर पिंजरे को छीनकर आग लगाकर गुलदार को मार देने के संबंध में मुकदमा पंजीकृत कराया है।
पौड़ी कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक विनोद गुंसाई ने बताया कि बुआखाल अनुभाग नागदेव रेंज पौड़ी के वन दरोगा सतीश चंद्र की तहरीर पर यह मुकदमा पंजीकृत हुआ है। मामले की जांच प्रभारी चौकी पाबौ के उपनिरीक्षक दीपक पंवार को सौंपी गई है।



और भी पढ़ें :