उत्तराखंड कांग्रेस को भी प्रशांत किशोर का सहारा

देहरादून| पुनः संशोधित रविवार, 8 जनवरी 2017 (13:40 IST)
हमें फॉलो करें
देहरादून। विभिन्न चुनावी सर्वेक्षणों में 15 फरवरी को होने जा रहे उत्तराखंड विधानसभा चुनावों  में पिछड़ने का संकेत मिलने के बाद कांग्रेस ने अब चुनाव रणनीतिकार का सहारा  लिया है।
 
इस संबंध में चुनावी रणनीति तय करने को लेकर उत्तराखंड प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष किशोर  उपाध्याय और अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी की ओर से नियुक्त चुनावी रणनीतिकार प्रशांत  किशोर के बीच एक बैठक भी हो चुकी है।
 
उपाध्याय ने संपर्क करने पर बताया कि किशोर के साथ समन्वय के लिए उन्होंने प्रदेश कांग्रेस  उपाध्यक्ष जोत सिंह बिष्ट के नेतृत्व में प्रदेश पार्टी सचिव विनोद चौहान को जिम्मेदारी सौंपी है।  प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि कांग्रेस विधानसभा चुनावों के लिए पूरी तरह तैयार है और दोबारा  सत्ता में आने के लिए पार्टी पूरी तरह जुटी हुई है।
 
विभिन्न समाचार पत्रों और समाचार चैनलों द्वारा कराए गए चुनावी सर्वेक्षणों में कांग्रेस को  पिछड़ते तथा मुख्य विपक्षी भाजपा को सरकार बनाने की स्थिति में दिखाए जाने से पार्टी नेता  चिंता में पड़ गए हैं और किशोर की सेवाएं लेने को इस स्थिति को बदलने के प्रयास की दिशा  में एक कदम माना जा रहा है।
 
उपाध्याय ने भी कहा कि किशोर के साथ जुड़ने से पार्टी की चुनावी रणनीति को और धार  मिलेगी, हालांकि उन्होंने साफ किया कि किशोर द्वारा इस संबंध में दी गई सेवाएं पूरी तरह से  स्वैच्छिक हैं। 
 
एक अन्य सवाल के जवाब में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष ने बताया कि 70 विधानसभा सीटों में से  करीब 63 पर प्रत्याशियों के नामों पर सहमति बन चुकी है। उन्होंने यह भी कहा कि दिल्ली में  होने वाली पार्टी की केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक से मंजूरी मिलने के बाद ही प्रत्याशियों की  अंतिम सूची तैयार होगी। (भाषा)



और भी पढ़ें :