SDM के यहां चोरों ने बोला धावा, ज्यादा माल नहीं मिला तो पत्र लिखकर छोड़ा- 'जब पैसे नहीं थे तो लॉक ही नहीं करना था कलेक्टर'

Last Updated: रविवार, 10 अक्टूबर 2021 (18:42 IST)
हमें फॉलो करें
देवास। जिले में के घर में चोरों ने धावा बोल दिया। जब चोरों को कुछ नहीं मिला तो उन्होंने वहां एक लिखकर छोड़ दिया, 'जब पैसे नहीं थे तो लॉक ही नहीं करना था कलेक्टर'।
सांसद कार्यालय के बगल में खातेगांव एसडीएम के सूने घर में चोर घुसा, लेकिन उसे वहां महज कुछ हजार का ही सामान मिला। चोर ने वह नकदी और ज्वेलरी तो समेट ली, लेकिन जाते-जाते एसडीएम की ही डायरी में उन्हीं के पेन से एक पत्र भी लिखकर गया, जिसमें नसीहत दी कि जब घर में पैसे नहीं थे तो लॉक नहीं करना था।

जब एसडीएम त्रिलोचन गौड़ ड्यूटी से करीब 15 दिन बाद लौटकर आए तो उन्हें वह पत्र मिला। चोर वह पत्र लिखकर बाकायदा ऐसे रख गया, जिससे अधिकारी की नजर उस पर पड़े। ये पत्र उन्हें कुर्सी पर मिला।

टीआई उमराव सिंह ने बताया, खातेगांव में एसडीएम पिछले 15 दिन से अपने घर पर नहीं थे। चोर 30 हजार नकद, एक अंगूठी चोरी कर ले गया। इस पत्र को पढ़कर पहले तो गौड़ को गुस्सा आया और फिर हंसी छूट गई। गौड़ ने बताया, चोर उनके घर से करीब 30 हजार रुपए नकद, एक अंगूठी और चांदी की पायल, सिक्के आदि लेकर गए हैं।



और भी पढ़ें :