केदारनाथ में चमत्कार, वासुकीताल कुंड के पास नीलकमल की बहार..

Last Updated: शुक्रवार, 24 सितम्बर 2021 (12:38 IST)
केदारनाथ। उत्तराखंड के वन प्रभाग क्षेत्र में स्थित वासुकीताल कुंड से लेकर करीब 3 किमी क्षेत्र में कई सालों बाद के फूल खिले हैं। चारों तरफ खिले फूल बरबस ही यहां आए लोगों का मन मोह लेते हैं। इसे स्थानीय लोग चमत्कार मान रहे हैं।
हिमालय क्षेत्र में 4 प्रकार के कमल के फूल मिलते हैं। इनमें ब्रह्मकमल, नीलकमल, फेन कमल और कस्तूरा कमल शामिल हैं। मध्य हिमालय के ऊपरी क्षेत्रों में ये पुष्प इस बार काफी मात्रा में खिले हैं।

नीलकमल को भगवान विष्णु का प्रिय पुष्प कहा जाता है। इस फूल का वानस्पतिक नाम नेयम्फयस नॉचलि है। यह नीले रंग का होता है।
यह एशिया के दक्षिणी और पूर्वी भाग का देशज पादप है तथा श्री लंका एवं बांग्लादेश का राष्ट्रीय पुष्प है।

केदारनाथ वन्य जीव प्रभाग के डीएफओ अमित कंवर ने बताया कि केदारनाथ से वासुकीताल तक प्रकृति का सौंदर्य देखते ही बन रहा है। यहां विभिन्न प्रकार के फूलों के बीच ब्रह्मकमल व नीलकमल की संख्या सबसे अधिक है।



और भी पढ़ें :