मुख्‍यमंत्री चरणजीत चन्नी के बेटे के विवाह में नहीं पहुंचे नवजोत सिद्धू

पुनः संशोधित मंगलवार, 12 अक्टूबर 2021 (21:26 IST)
चंडीगढ़। के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी के बेटे नवजीत सिंह ने रविवार को मोहाली के एक गुरुद्वारे में सादे समारोह में शादी की। नवजीत ने मोहाली जिले के डेरा बस्सी के पास अमलाला गांव की रहने वाली इंजीनियरिंग ग्रेजुएट सिमरनधीर कौर से शादी की।

सिख रीति-रिवाजों के अनुसार 'आनंद कारज' गुरुद्वारा सच्चा धन में सम्पन्न किया गया। अपने बेटे के बगल में बैठे मुख्यमंत्री खुद एसयूवी चलाकर गुरुद्वारे तक ले गए।

विवाह समारोह में हिस्सा लेने वालों में पंजाब के राज्यपाल बनवारीलाल पुरोहित, महासचिव हरीश रावत, उपमुख्यमंत्री सुखजिंदर सिंह रंधावा, ओपी सोनी, मंत्री मनप्रीत सिंह बादल, ब्रह्म मोहिंद्र, परगट सिंह, तृप्त राजिंदर सिंह बाजवा, विधायक राणा गुरमीत सोढ़ी, सांसद मनीष तिवारी सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी शामिल थे।
अकाल तख्त के जत्थेदार ज्ञानी हरप्रीत सिंह भी शादी में शामिल हुए। सिंह ने गुरुद्वारे में नवदम्पती और चन्नी के परिवार के साथ लंगर लिया। जत्थेदार ने सादा शादी समारोह आयोजित करने के लिए चन्नी की प्रशंसा भी की।

पंजाब कांग्रेस प्रमुख नवजोत सिंह सिद्धू इस कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके, क्योंकि वह माता वैष्णो देवी मंदिर के दर्शन के लिए जम्मू में थे। उन्होंने ट्वीट किया- ‘नवरात्रों के दौरान मां के दर्शन ऊर्जा पैदा करते हैं... आत्मा से सारे मैल धोते हैं!! माता वैष्णो देवी के चरण कमलों में आकर धन्य हो गया।'



और भी पढ़ें :