कंगना रनौत बोली- हिमाचल से मुंबई पहुंच रही हूं, किसी के बाप की हिम्मत हो तो रोक ले...

Last Updated: शुक्रवार, 4 सितम्बर 2020 (16:51 IST)
हमें फॉलो करें
(Sushant Singh Rajput) मौत मामले में बॉलीवुड अभिनेत्री (Kangana Ranaut)के बयान लगातार सामने आ रहे हैं। हाल ही में कंगना ने कहा था कि उन्हें मुंबई पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर जैसा लग रहा है।
उन्होंने शिवसेना (ShivSena) नेता (Sanjay Raut) पर धमकियां देने का आरोप भी लगाया था। कंगना रनौत ने (Mumbai Police) की आलोचना भी की थी। उन्होंने कहा था कि मुंबई पुलिस बॉलीवुड ड्रग माफिया के खिलाफ एक्शन लेने की बजाय चुप्पी साधे बैठी है।

इसके बाद संजय राउत और कंगना में जुबानी जंग तेज हो गई है। कंगना रनौत ने ट्वीट किया है कि 'मैं देख रही हूं कई लोग मुझे मुंबई वापस न आने की धमकी दे रहे हैं इसलिए मैंने तय किया है कि 9 सितंबर को मुंबई आऊंगी। मैं मुंबई एयरपोर्ट पर पहुंचकर टाइम पोस्ट करूंगी, किसी के बाप में हिम्मत है तो रोक ले।' उनके इस ट्‍वीट के बाद शिवसेना के सांसद संजय राउत ने कंगना को मेंटल कहा है।

एक समाचार चैनल पर बात करते हुए संजय राउत ने कहा कि कंगना ने महाराष्ट्र और मुंबई पुलिस का अपमान किया है। वे अगर हिमाचल से सुरक्षा ला रही हैं तो अब यह उनकी जिम्मेदारी है। उनसे हम लोगों की व्यक्तिगत दुश्मनी नहीं है, लेकिन उन्हें इस तरह की भाषा का प्रयोग नहीं करना चाहिए।

राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि कंगना ने महाराष्ट्र का अपमान करने की कोशिश की है। मुंबई ने आपको नाम, शोहरत, पैसा, इज्जत सबकुछ दिया है। अब तक मुंबई पुलिस के भरोसे आप यहां रहती हैं, उसी पुलिस पर आप इस प्रकार का कीचड़ उछालेंगी तो ये कौन से नीति-नियम में है?

मुंबई पुलिस ने हमले में लोगों को बचाया, कसाब को पकड़ा, कोरोना के संकटकाल में अपनी जान दी और उस मुंबई पुलिस के बारे में वे ऐसी बातें कर रही हैं? संजय राउत ने कहा कि कंगना को कौन धमकी देगा, जरूरत क्या है? कौन है ये? एक महिला है, कलाकार है, मैं उसका आदर करता हूं, पर उसको कोई धमकी क्यों दे? वो महिला है, उनके खिलाफ कोई बोले तो अपराध होता है लेकिन ये महिला किसी के भी खिलाफ अनाप-शनाप बोल रही है, ये चलता है क्या?

उनके बयान के बाद महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) ने भी कंगना को चेतावनी दी है कि वे मुंबई पुलिस की आलोचना न करें जबकि कांग्रेस ने कंगना के पीछे बीजेपी आईटी सेल पर काम करने का आरोप लगाया है।

महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने कहा कि मुंबई पुलिस की तुलना स्कॉटलैंड यार्ड से की जाती है। कुछ लोग मुंबई पुलिस को निशाना बना रहे हैं। इसके खिलाफ मुंबई पुलिस के एक अधिकारी ने कोर्ट की शरण ली है। कंगना को मुंबई या महाराष्ट्र में रहने का कोई अधिकार नहीं है।

गृहमंत्री के बयान के बाद कंगना ने एक और ट्‍वीट किया। इसमें उन्होंने कहा कि मेरे लोकतांत्रिक हक पर वे फैसला ले रहे हैं। एक ही दिन में पीओके से तालिबान हो गए हैं।



और भी पढ़ें :