बिक्रम मजीठिया मांग रहे हैं विकास के नाम पर वोट

मजीठा (अमृतसर)| पुनः संशोधित रविवार, 22 जनवरी 2017 (16:49 IST)
हमें फॉलो करें
मजीठा (अमृतसर)। मादक पदार्थों के मुद्दे पर अक्सर विपक्ष की ओर से होते रहे हमलों के बीच पंजाब के मंत्री 
एवं इस निर्वाचन क्षेत्र से के विधायक बिक्रम सिंह मजीठिया ने विपक्ष के आरोपों को निराधार बताया तथा विकास के नाम पर वोट मांगकर हैटट्रिक लगाने की बात कही। राजस्व मंत्री को अपने घरेलू मैदान मजीठा में कांग्रेस और आप की तरफ से चुनौती मिल रही है।
>  
वे यहां सघन प्रचार अभियान चला रहे हैं। कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार भी ऐसा ही कर रहे हैं। इन लोगों के पोस्टर निर्वाचन क्षेत्र में जगह-जगह देख जा सकते हैं। मजीठिया ने यहां रोपोवाली खुर्द गांव में कहा कि कुछ बाहरी लोग पोस्टरों के जरिए लोगों से जुड़ने की कोशिश कर रहे हैं।
 
पंजाब कांग्रेस के प्रमुख अमरिंदर सिंह ने कहा है कि वे सत्ता में आने पर मादक पदार्थ रैकेट की दोबारा जांच कराएंगे जिसमें एसआईटी ने मजीठिया को क्लीनचिट दी थी, वहीं आप के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल कह चुके हैं कि यदि राज्य में उनकी पार्टी की सरकार बनती है तो वे मादक पदार्थ रैकेट मामले में कथित भूमिका के लिए मंत्री को 15 अप्रैल तक जेल भेज देंगे। 
 
मजीठिया अपने खिलाफ लगे आरोपों को दुर्भावना से प्रेरित बताते हैं। उन्होंने कहा कि यह सब राजनीतिक नौटंकी है। वे इस चीज को अदालत क्यों नहीं ले जाते? यह पूछे जाने पर कि आप और कांग्रेस मादक पदार्थों के मुद्दे पर उन पर निशाना क्यों साध रही हैं? तो उन्होंने कहा कि अदालतें फैसला करेंगी। अब 4 साल हो गए हैं, यह अदालत की निगरानी वाली जांच है। 
एसआईटी द्वारा दी गई रिपोर्ट अदालत द्वारा गठित एसआईटी की रिपोर्ट है। क्या वे अदालतों से ऊपर फैसला करेंगे। क्या वे अदालतों से बड़े हैं, क्या यहां बनाना रिपब्लिक है। (भाषा) 



और भी पढ़ें :