बिहार के उपमुख्यमंत्री ने किया अपने परिवार को उपकृत, दिलाए करोड़ों के ठेके

Tarkishore Prasad
Last Updated: बुधवार, 22 सितम्बर 2021 (15:34 IST)
हमें फॉलो करें
पटना। के सीएम नीतीश कुमार की महत्वपूर्ण योजना है 'हर घर, नल का जल'। इस योजना से जरूरतमंदों के साथ-साथ नेताओं के रिश्तेदारों को भी काफी फायदा हुआ है। एक खबर के अनुसार इस योजना से लोगों को पानी तो मिला, लेकिन इसके जरिए उपमुख्यमंत्री तारकिशोर के और उनके सहयोगियों को 53 करोड़ रुपए का ठेका मिलने से वे 'उपकृत' हुए हैं।
ALSO READ:

चुनाव : क्या है यूपी का मूड, क्या उत्तर प्रदेश का चुनाव ‘अयोध्या’ से लड़ा जाएगा? सभी पार्टियों के फोकस में राम की नगरी है

खबर के अनुसार इस योजना में ठेके के जरिए फायदा लेने वालों में सबसे पहला नाम उपमुख्यमंत्री का आता है। इसके अलावा लिस्ट में राज्य के जेडीयू और बीजेपी के कुछ और नेताओं के नाम भी हैं। यह योजना करीब 5 साल पहले शुरू हुई है। इस 'हर घर नल का जल' योजना को अबत क काफी सफल बताया जाता रहा है। एक लाख आठ हजार पंचायत वॉर्डों तक पाइप से घर तक पानी पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है। सरकार का दावा है कि 95 फीसदी पंचायतों को कवर कर लिया गया है।


पड़ताल में पाया गया कि उपमुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद की बहू पूजा कुमारी, दो साले प्रदीप कुमार भगत ठेके लेने वालों में शामिल हैं। ठेका लेनेवाली कंपनियों में कुछ उनके करीबी प्रशांत चंद्र जायसवाल, ललित किशोर प्रसाद और संतोष कुमार से जुड़ी हुई है। पूजा कुमारी की कंपनी को कॉन्ट्रैक्ट मिलने पर सवाल इसलिए उठे हैं क्योंकि कुछ अधिकारियों ने बताया है कि उनकी कंपनी को काम का कोई अनुभव भी नहीं था।



और भी पढ़ें :