पंजाब में CM चन्नी का बड़ा ऐलान, पुलिसवालों को हर साल मिलेगा 13 माह का वेतन

Last Updated: शनिवार, 1 जनवरी 2022 (00:01 IST)
हमें फॉलो करें
पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने शुक्रवार को के लिए बड़ा ऐलान किया है। उन्‍होंने पुलिसवालों को हर साल 13 महीने का देने की घोषणा है। इसी बीच उन्‍होंने पुलिस का वेलफेयर फंड 10 करोड़ से बढ़ाकर 15 करोड़ करने का भी ऐलान किया।इसके अलावा मुख्यमंत्री ने राज्य की आशा कार्यकर्ताओं को 2500 रुपए मासिक भत्ता देने और मध्याह्न भोजन कार्यकर्ताओं के भत्ते में 800 रुपए प्रतिमाह की वृद्धि करने की घोषणा की।
खबरों के अनुसार, मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने पंजाब पुलिस के लिए एक साल में 13 माह की सैलरी देने का ऐलान किया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि थाने में, नाके पर या फिर कहीं अन्य जगह पर खड़ा पुलिस मुलाजिम खुद को चरणजीत सिंह चन्नी ही समझे और सोचे कि पंजाब को आगे लेकर जाना है, इसे नया पंजाब बनाना है।

इसी बीच मुख्यमंत्री चन्नी ने पुलिस का वेलफेयर फंड 10 करोड़ से बढ़ाकर 15 करोड़ करने का भी ऐलान किया। उन्होंने कहा कि पुलिस विभाग के अधिकारी और कर्मचारी घड़ी की सूइयां देखे बगैर दिन-रात काम करते हैं और उन्हीं की बदौलत आज पंजाब और पंजाब में रहने वाले लोग सुरक्षित हैं।

मुख्यमंत्री चरनजीत सिंह चन्नी ने राज्य की आशा कार्यकर्ताओं को 2500 रुपए मासिक भत्ता देने और मध्याह्न भोजन कार्यकर्ताओं के भत्ते में 800 रुपए प्रतिमाह की वृद्धि करने की घोषणा बृहस्पतिवार को की। अपने विधानसभा क्षेत्र में एक रैली में चन्नी ने उक्त घोषणा की और कहा कि इन फैसलों से सरकार पर 124.25 करोड़ रुपए का खर्च बढ़ेगा।

इससे राज्य सरकार पर करीब 60 करोड़ रुपए का खर्च बढ़ेगा और करीब 22,000 आशा कार्यकर्ताओं को लाभ होगा। अब आशा कार्यकर्ताओं को भी राज्य सरकार के पांच लाख रुपए तक के कैशलेस स्वास्थ्य बीमा का लाभ मिल सकेगा। इसका प्रीमियम राज्य सरकार भरेगी और इसमें ड्यूटी के दौरान किसी भी संक्रमण से ग्रस्त होने पर उनके इलाज का पूरा खर्च उठाया जाएगा।

ऐसे ही चन्नी ने राज्य के करीब 42,500 मध्याह्न भोजन कर्मचारियों को फिलहाल मिलने वाले 2,200 रुपए प्रतिमाह के भत्ते को बढ़ाकर 3,000 रुपएप्रतिमाह करने की घोषणा की है। इससे राज्य सरकार पर 64.25 करोड़ रुपए का दबाव पड़ेगा।

उन्होंने कहा कि अन्य सरकारी कर्मचारियों की तरह आशा कार्यकर्ताओं और मध्याह्न भोजन कर्मियों को भी पूरे मातृत्व अवकाश (छह महीने) का लाभ मिलेगा। चन्नी ने कहा कि इन्हें नया भत्ता एक जनवरी से मिलेगा और अब पहले के 10 महीने के मुकाबले उन्हें पूरे 12 महीने यह भत्ता मिला करेगा।



और भी पढ़ें :