गोवध पर रोक के लिए कानून बनाए केंद्र- आजम

मथुरा| पुनः संशोधित शुक्रवार, 30 अक्टूबर 2015 (18:36 IST)
हमें फॉलो करें
मथुरा। उत्तर प्रदेश के मंत्री ने मांग की है कि गोवध पर रोक ओर तथा गोवंश मुद्दे पर गैर जिम्मेदाराना बयान देने से लोगों को रोकने के लिए केंद्र को एक प्रभावी कानून बनाना चाहिए।
 
गोवर्धन पीठ के स्वामी को गुरुवार को भेजे एक पत्र में खान ने अपनी डेयरी के लिए एक भेंट करने पर उन्हें धन्यवाद दिया और गोवध पर रोक के लिए एक कानून के संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बातचीत करने का उनसे अनुरोध किया।
 
खान ने अपनी डेयरी में एक गाय रखने की इच्छा व्यक्त की थी। इसके बाद हिन्दू संत ने उन्हें एक काली गाय भेंट की थी।
 
उन्होंने मांग की कि गाय को विवाद या चर्चा का विषय नहीं बनाया जाना चाहिए। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि गोमांस तथा गोवंश मुद्दे पर गैर.जिम्मेदाराना बयान देने से लोगों को रोकने के लिए केंद्र को एक नया कानून बनाना चाहिए।
 
उत्तर प्रदेश के अल्पसंख्यक कल्याण और शहरी विकास मंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार को आवारा पशुओं को शरण देने के लिए व्यवस्था करनी चाहिए तथा गोवंश के मृत मवेशियों की बिक्री पर रोक के लिए कदम उठाया जाना चाहिए।
 
उन्होंने पत्र में कहा, 'अगर कोई जीवित पशु हमारे लिए आस्था का विषय है तो उसका अंतिम संस्कार भी उसी भावना से किया जाना चाहिए।'
 
उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री को प्यार एवं सौहार्द का माहौल बनाने पर जोर देना चाहिए, और इसे विवाद का विषय नहीं बनाया जाना चाहिए। (भाषा)



और भी पढ़ें :