विजय रथयात्रा लेकर अखिलेश पहुंचे कानपुर देहात, बोले- पकौड़े तलने का रोजगार देने वाली सरकार ने तेल भी कर दिया महंगा

अवनीश कुमार| Last Updated: बुधवार, 13 अक्टूबर 2021 (23:04 IST)
देहात। बुधवार देर शाम अखिलेश यादव विजय रथयात्रा के साथ जिला मुख्यालय माती पहुंचे। रथयात्रा का स्वागत करने के लिए तैयार खड़े कार्यकर्ताओं ने फूलों की वर्षा कर अखिलेश यादव का स्वागत किया।सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष ने हाथ हिलाते हुए सभी का अभिनंदन स्वीकार किया। कार्यकर्ताओं ने अखिलेश यादव जिंदाबाद, मुलायम सिंह यादव जिंदाबाद के नारे हुए जोरदार स्वागत किया।
इस दौरान सपा मुखिया अखिलेश यादव ने मंच पर पहुंचकर सभा को संबोधित करते हुए कहा कि प्रदेश में जब-जब सपा की विजय यात्रा निकली है,तब-तब प्रदेश में परिवर्तन आया है।उन्‍होंने कहा, रथयात्रा के माध्यम से किसानों, बुजुर्गों का आशीर्वाद लेंगे।

उन्होंने कहा कि लखीमपुर में किसानों के साथ कानून को भी कुचला गया है।उन्होंने कहा कि युवाओं को पकौड़ा तलने का रोजगार देने वाली भाजपा सरकार के कार्यकाल में तेल भी 200 रुपए लीटर है,जो कि पेट्रोल से भी ज्यादा महंगा हो गया है।अब यह बताएं कि युवा क्या करें।

जब सरकार से पूछो तो सरकार का जवाब है कि मिलावट बंद हो गई है इसलिए तेल महंगा हो गया है।उन्होंने कहा कि इस सरकार में महंगाई की सारी सीमाएं पार हो चुकी हैं। अब तो हवाई जहाज़ बेचे जा रहे हैं, स्टेशन बिक रहे हैं और जो कुछ अब बचा रह गया है वह भी भाजपा बेच देगी।

दुर्भाग्य तो देखिए अगर सरकार के खिलाफ बोला या आवाज उठाई दो सरकार बुलडोजर चलवा देती है। और रही उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था की बात तो इस समय सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था खराब है।

एक झलक पाने की लगी होड़ :

कार्यकर्ताओं में सपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव की एक झलक पाने की होड़ लगी रही।उनका काफिला जैसे ही कानपुर देहात पहुंचा तो मिलने के लिए सपाइयों में धक्कामुक्की शुरू हो गई। हाईवे पर भी जाम की स्थिति बन गई, लेकिन पुलिस ने एक लेन से दोनों छोर के वाहनों को निकालना शुरू कराया है। सपा कार्यकर्ता विजय रथ के साथ सेल्फी लेते रहे।

अखिलेश ने हाथ हिलाकर स्वीकार किया अभिनंदन :
विजय रथयात्रा जैसे ही कानपुर देहात पहुंची कार्यकर्ताओं ने रथ के ऊपर फूल बरसाने शुरू कर दिए और समाजवादी पार्टी जिंदाबाद, अखिलेश यादव जिंदाबाद के नारे सड़कों गूंजते रहे। यह सब देख अखिलेश यादव ने विजय रथ से बाहर निकल हाथ हिलाकर कार्यकर्ताओं का अभिनंदन स्वीकार किया और कार्यकर्ताओं ने भी हाथ जोड़कर उनका अभिनंदन किया।



और भी पढ़ें :