हिमाचल विधानसभा के गेट पर लटके मिले खालिस्तान के झंडे, AAP ने ‘सुरक्षा नाकामी’ के आरोप लगाए

Last Updated: रविवार, 8 मई 2022 (23:05 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मुख्य द्वार पर खालिस्तान के झंडे मिलने के मामले में आम आदमी पार्टी (AAP) ने रविवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) पर राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर विफल रहने का आरोप लगाया।
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने भाजपा पर निशाना साधते हुए किया, पूरी भाजपा एक गुंडे को बचाने में लगी है और उधर खालिस्तानी झंडे लगाकर चले गए। जो सरकार विधानसभा ना बचा पाए, वो जनता को कैसे बचाएगी। येहिमाचल की आबरू का मामला है, देश की सुरक्षा का मामला है। भाजपा सरकार पूरी तरह विफल हो गई है।

वह संभवत: दिल्ली भाजपा नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा के लिए ऐसा कह रहे थे जिन्हें शुक्रवार को पंजाब पुलिस के एक दल ने मोहाली में दर्ज एक मामले में उनके दिल्ली स्थित आवास से गिरफ्तार किया था।

सिसोदिया ने कहा कि धर्मशाला में हिमाचल विधानसभा भवन के गेट के बाहर खालिस्तान के झंडे लगे होना भाजपा सरकार के राष्ट्रीय सुरक्षा से संबंधित मामलों से निपटने और राज्य के लोगों के सम्मान को बनाए रखने में पूर्ण रूप से विफल होने का प्रमाण है।

हिमाचल प्रदेश विधानसभा के मुख्य द्वार पर खालिस्तान के झंडे लगाए गए थे और इसकी दीवारों पर कुछ आपत्तिजनक नारे भी लिखे गए थे। प्रशासन ने इन झंडों को हटा लिया है और दीवारों को दोबारा रंगा गया है।

गौरतलब है कि भाजपा ने हिमाचल प्रदेश में आम आदमी पार्टी के सोशल मीडिया प्रभारी हरप्रीत सिंह बेदी के कुछ वर्ष पहले किए गए ट्वीट को लेकर की पार्टी पर खुलकर खालिस्तान का समर्थन करने का आरोप लगाया था।

इसे लेकर आप को कड़ी आलोचना का सामना करना पड़ा था। इसके बाद आप ने बेदी को पार्टी के सभी पदों से निष्कासित कर दिया था। हिमाचल प्रदेश में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। इस वजह से वहां राजनीतिक गतिविधियां बेहद तेज हो गई हैं।(भाषा)



और भी पढ़ें :