J&K : जम्मू-कश्मीर में 4 आतंकी ढेर, वाहन पलटने से 3 जवानों की मौत

सुरेश एस डुग्गर| Last Updated: गुरुवार, 14 अप्रैल 2022 (21:30 IST)
हमें फॉलो करें
जम्मू। कश्मीर के शोपियां में हुई मुठभेड़ में 4 आतंकी मारे गए थे।
इस मुठभेड़ में शामिल होने के लिए जा रहे सेना के 3 जवानों की उस समय मौत हो गई जब उनका वाहन पलट गया। दो अन्य जवान जख्मी भी हुए हैं। इस बीच कल देर रात कश्मीर के कुलगाम में जिस हिन्दू राजपूत युवक को आतंकियों ने गोली मार कर जख्मी किया था उसकी मौत हो गई है।

अधिकारियों ने बताया कि शोपियां के बदीगाम इलाके में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में 4 आतंकी मारे गए हैं। हालांकि सुरक्षाबलों ने सबसे पहले आतंकियों को आत्मसमर्पण करने की चेतावनी दी लेकिन आतंकियों ने इसे अनुसना कर फायरिंग शुरू कर दी।


पुलिस प्रवक्ता के अनुसार शोपियां के जैनपोरा इलाके के समीप स्थित बदीगाम इलाके में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली। इसके तुरंत बाद पुलिस और सुरक्षाबलों ने क्षेत्र में तलाशी अभियान चलाया। इसी दौरान एक जगह पर छिपे आतंकियों ने सुरक्षाबलों पर फायरिंग शुरू कर दी। पहले आतंकियों को आत्मसमर्पण करने की चेतावनी दी गई लेकिन आतंकियों ने इसे अनसुना कर दिया।

हालांकि इस मुठभेड़ में शामिल होने के लिए जा रहे सेना की 44 आरआर बटालियन के दो जवानों की उस समय मौत हो गई जब वे कनीपोरा स्थित अपने कैंप से वाहन में निकले थे कि वाहन पलट गया। 2 की मौके पर ही मौत हो गई तथा अन्य 2 को श्रीनगर के 92 बेस अस्पताल में शिफ्ट किया गया है।

इससे पहले बुधवार की शाम दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले में आतंकियों ने घर के बाहर अंधाधुंध गोलियां बरसाकर कर कश्मीरी हिन्दू परिवार के एक व्यक्ति की हत्या कर दी। मारे गए व्यक्ति के घर पर 2 पुलिसकर्मी भी सुरक्षा के लिए तैनात थे। हमले में लश्करे तौयबा के नए आतंकी का हाथ बताया जा रहा है। सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके को घेरकर तलाशी अभियान चलाया गया है।

पुलिस ने बताया कि बुधवार शाम को आतंकवादियों की गोली लगने से घायल स्थानीय निवासी सतीश कुमार सिंह ने आज सुबह इलाज के दौरान दम तोड़ दिया। पुलिस ने इस बात की पुष्टि करते हुए दावा किया कि सतीश की हत्या में शामिल आतंकियों का जल्द ही सफाया कर दिया जाएगा। आतंकवादियों की तलाश की जा रही है। सतीश जिला कुलगाम का ही रहने वाला था और पेशे से ड्राइवर था। डॉक्टरों ने बताया कि उसके सिर पर गोली लगी थी। जिस समय उसे अस्पताल में लाया गया, वह होश में नहीं था। उसकी हालत काफी गंभीर थी। उसे बचाने का बहुत प्रयास किया गया परंतु इलाज के दौरान आज सुबह उसने दम तोड़ दिया।



और भी पढ़ें :