पंजाब और हरियाणा में झमाझम बारिश

चंडीगढ़ (भाषा)| भाषा|
हमें फॉलो करें
कमजोर पड़े दक्षिण पश्चिम के दोबारा सक्रिय होने से और हरियाणा के कई हिस्सों में भारी हुई।


उत्तर पश्चिम क्षेत्र में एक जुलाई से 25 जुलाई के दरमियान बेहद कम बारिश हुई, लेकिन आज की जबरदस्त बारिश से लोगों को मिली, जिसकी उन्हें लंबे समय से तलाश थी। आज हुई बारिश से राज्य में बिजली संकट से भी कुछ निजात मिल सकेगी।

कृषि प्रधान पंजाब और हरियाणा के किसानों के लिए भी यह बारिश राहत की साँस लेकर आई क्योंकि बारिश की कमीं से फसलों को नुकसान होने की आशंका था।

मौसम विभाग ने कहा कि लुधियाना में क्षेत्र में सबसे ज्यादा 142.8 मिमी बारिश हुई। पटियाला में 45.5 मिमी, माधोपुर में 25 मिमी, अमृतसर में 3 मिमी, नांगल बाँध इलाके में 24.6, शाहपुर कंडी में 6.4 मिमी, मोगा में 5 मिमी, मोहाली में 8 मिमी और रोपड़ में 7 मिमी बारिश हुई। चंडीगढ़ में आज सुबह से 9.6 मिमी बारिश दर्ज की गई।

हरियाणा के भिवानी में सबसे ज्यादा 59.2 मिमी, रोहतक में 52.1 मिमी, हिसार में 31.9 मिमी, अंबाला में 10.2 मिमी, सोनीपत में 40 मिमी, कालका में 5 मिमी और पंचकुला में 10 मिमी. बारिश दर्ज की गई।

मौसम विभाग के निदेशक छत्तरसिंह ने यहाँ बताया कि क्षेत्र में मानसून सक्रिय हो चुका है और अभी ज्यादा बारिश होनी चाहिए।



और भी पढ़ें :