निर्मला सीतारमण- भारतीय जनता पार्टी की इस राजनेत्री में है कुछ खास बात

पुनः संशोधित बुधवार, 18 अगस्त 2021 (11:32 IST)
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की नई सरकार में पूर्व रक्षामंत्री को वित्तमंत्री बनाया गया है। वे अर्थशास्त्री, राजनीतिक और सामाजिक कार्यकर्ता हैं। सीतारमण का जन्म तमिलनाडु के मदुरै में 18 अगस्त 1959 को हुआ। आओ जानते हैं उनके संबंध में कुछ खास बातें।


1. 1986 में उन्होंने प्राइसवॉटरहाउस कूपर में एक वरिष्ठ प्रबंधक के रूप में काम किया और कुछ समय के लिए बीबीसी वर्ल्ड सर्विस के लिए भी काम किया था।

2. उनके पिता का नाम नारायणन सीतारमण और माता का नाम श्रीमति सावित्री है। उनके पति का नाम डॉ. परकला प्रभाकर है जो एक व्यवसायी है। दोनों की एक पुत्री है।

3. उनके पिता नारायणन सीतारमण भारतीय रेलवे के कर्मचारी थे, इसलिए उनका बचपन भारत के विभिन्न राज्यों में गुजरा है जिसके चलते उन्हें दक्षिण भारत की भाषाओं के साथ ही उत्तर भारत की भाषाओं का ज्ञान भी है।
4. 2006 में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुई और जिस समय नितिन गठकरी पार्टी के अध्यक्ष थे तब उन्हें 2010 में पार्टी के प्रमुक छह प्रवक्ताओं में स्थान मिला। एक सक्षम प्रवक्त के रूप में निर्मला सीतारमन की अच्छी खासी पहचान बन गई। 2014 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने पार्टी के मत को काफी दबंगता और स्पष्टता से रखा। इससे नरेंद्र मोदीजी को प्रचार में बहुत मदद मिली।

5. चुनाव के बाद जब पार्टी सत्ता में आई तो 2014 में वह वित्तमंत्रालय में राज्यमंत्री और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्रालय में राज्यमंत्री बनीं थीं। उन्होंने 2015 में ही वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय की राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) का पद भी संभाला था।

6. 26 मई 2016 में इन्हें स्वतंत्र चार्ज के तहत ‘मिस्निस्टर ऑफ़ स्टेट’ का पद सौंपा गया। इसी के साथ ही इन्हें मिनिस्ट्री ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, मिनिस्ट्री ऑफ फाइनेंस एंड कॉर्पोरेट अफेयर्स आदि का कार्य भार भी मिनिस्ट्री ऑफ स्टेट के अंतर्गत प्राप्त हुआ। इसी समय राज्यसभा के उपचुनाव में इन्होने हिस्सा लिया और इन्हें आंद्रप्रदेश राज्य की तरफ से जीत हासिल हुई और ये राज्यसभा में पहुंच गयीं।
7. निर्मला सीतारमण प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के पहले कार्यकाल में वे दूसरी पूर्णकालिक महिला रक्षा मंत्री भी बनीं थीं। उनसे पहले इंदिरा गांधी इन पदों पर रही थीं। 3 सितंबर 2017 को निर्मला सीतारमण देश की पूर्णकालिक रक्षा मंत्री बनीं। उन्‍होंने इस पद पर 30 मई 2019 तक अपनी सेवाएं दीं।

8. वर्तमान में निर्मला सीतारमण देश की दूसरी पूर्णकालिक महिला वित्तमंत्री हैं। उनसे पहले इंदिरा गांधी इन पदों पर रही थीं। 30 मई 2019 को निर्मला सीतारमण को वित्त और कॉर्पोरेट मामलों के मंत्री के रूप में नियुक्त किया गया था। वित्तमंत्री के रूप में भी उनकी सेवाओं की सराहना की जा रही है, क्योंकि मूल रूप से वह एक अर्थशास्त्री हैं।



और भी पढ़ें :