0

इस तरह करें नवरात्रि के उपवास तो नहीं होगी परेशानी

बुधवार,सितम्बर 28, 2022
0
1
नवरात्रि में चौथे दिन मां कूष्मांडा की आरती होती है। इस देवी को आदिस्वरूपा या आदिशक्ति कहा जाता है। आज इस आरती से माता की कृपा प्राप्त होती है। पढ़ें आरती...Devi Kushmanda Aarti
1
2
शारदीय नवरात्रि 2022 चल रही है। इस नवरात्रि में सप्तमी, अष्टमी और नवमी का खास महत्व रहा है। इस दिन विशेष पूजा, हवन और व्रत का पारण किया जाता है। इसके साथ ही कन्याओं का पूजन और कन्या भोज भी होता है। इस दिन भोजन बनाते समय निम्नलिखित भोजन का ग्रहण करने ...
2
3
Devi Kushmanda : आज शारदीय नवरात्रि का चौथा दिन है। इस दिन मां कूष्मांडा की पूजा और आराधना की जाती है। इस दिन भी नमन करके उनके खास मंत्रों का जाप किया जाता है। यह योग-ध्यान की देवी, अन्नपूर्णा का स्वरूप भी है। आज इन खास मंत्रों का जाप तथा पूजन करने ...
3
4
Maha Ashtami 2022 Date: शारदीय नवरात्रि के दौरान महाअष्टमी यानी दुर्गा अष्टमी मनाई जाएगी। इस दिन दुर्गा माता के 8वें स्वरूप मां महागौरी की पूजा की जाती है। यह बहुत ही शुभ दिन होता है जिसे अधिकतर घरों में मनाया जाता है। अधिकतर घरों में इसी दिन व्रत ...
4
4
5
Navratri 2022 : नवरात्रि के तीसरे दिन माता चंद्रघंटा की उपासना का माना गया है। इनका स्वरूप सौम्य, वाहन सिंह है। है। इन्हें सुगंधित चीजें प्रिय है। ये आसुरी शक्तियों से रक्षा तथा अहंकार को नष्ट करती है। यह देवी सौभाग्य, शांति और वैभव देने वाली मानी ...
5
6
मां दुर्गाजी की तीसरी शक्ति का नाम 'चंद्रघंटा' है। नवरात्रि उपासना में तीसरे दिन की पूजा का अत्यधिक महत्व है और इस दिन इन्हीं के विग्रह का पूजन-आराधन किया जाता है। मां के आराधक के शरीर से दिव्य प्रकाशयुक्त परमाणुओं का अदृश्य विकिरण होता रहता है। ...
6
7
Durga Maha Navami kab ki hai 2022: शारदीय नवरात्रि में दुर्गा नवमी को महानवमी कहते हैं। इस दिन कई घरों में व्रत का पारण होता है और पूजा के साथ ही हवन भी होता है। नवरात्रि की महा नवमी तिथि इस बार 4 अक्टूबर 2022 मंगलवार के हैं। आओ जानते हैं कि इस दिन ...
7
8
Durga ashtami kab ki hai 2022: शारदीय नवरात्रि में दुर्गा अष्टमी को महाष्टमी कहते हैं। इस दिन कई घरों में व्रत का पारण होता है और माता की विशेष पूजा के साथ ही हवन भी होता है। नवरात्रि की अष्टमी तिथि इस बार 3 अक्टूबर 2022 सोमवार के हैं। आओ जानते हैं ...
8
8
9
ब्रह्माजी द्वारा उपदेश में दुर्गाकवच कहा गया। इससे प्राप्त होने वाली जड़ी-बूटियों के माध्यम से हनुमानजी ने भगवान लक्ष्मण की जान बचाई बल्कि आज की तारीख में भी चिकित्सकों द्वारा मानव रोगोपचार हेतु अमल में लाया जाता है। प्रसिद्ध विद्वान चरक ने तो हर ...
9
10
देवी चंद्रघंटा की पूजा नवरात्रि में तीसरे दिन होती है। मां चंद्रघंटा की कृपा से साधक को अलौकिक वस्तुओं के दर्शन होते हैं। आइए यहां पाठकों के लिए प्रस्तुत हैं माता चंद्रघंटा की आरती- जय मां चंद्रघंटा सुख धाम, पूर्ण कीजो मेरे काम, Mata Chandraghanta ...
10
11
Navratri 2022 : नवरात्रि के तीसरे दिन देवी चंद्रघंटा का पूजन तथा उनके मंत्रों का जाप करने से साधक के जीवन के सभी पाप तथा बाधाएं खत्म हो जाती हैं तथा भक्त पराक्रमी व निर्भय हो जाता है। अत: इस दिन देवी पूजन के बाद उनके 4 विशेष मंत्रों का जाप अवश्य ...
11
12
Second Day Of Shardiya Navaratri 2022: आज शारदीय नवरात्रि पूजा का दूसरा दिन है। नवरात्रि दुर्गा पूजा के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी देवी के इसी स्वरूप की उपासना की जाती है। इस देवी की कृपा से सर्व सिद्धि प्राप्त होती है। यहां पढ़ें कथा और मंत्र- Maa ...
12
13
Kanya Puja : 26 सितंबर 2022 से शारदीय नवरात्रि का पर्व मनाया जा रहा है जिसका समापन 4 अक्टूबर को होगा। जब नवरात्रि में व्रत का समापन होता है तब व्रत का उद्यापन किया जाता है। उद्यापन के दौरान ही कन्या पूजन और कन्या भोज का आयोजन होता है। इसके बाद ही ...
13
14
Shardiya Navratri 2022: शारदीय नवरात्रि का पर्व चल रहा है और आज है नवरात्र का दूसरा दिन। इस दिन माता ब्रह्मचारिणी की पूजा होती है। कौन है मां ब्रह्माचारिणी और किस कारण होती है उनकी पूजा एवं आराधना? उन्हें कौनसा प्रसाद अर्पित किया जाता है, क्या है ...
14
15
26 सितंबर सोमवार से शारदीय नवरात्रि प्रारंभ हो गई है। इस नौ दिनों में देवी दुर्गा को प्रसन्न करके आप मनचाहा वरदान प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए देवी पूजा में जहां विभिन्न प्रकार के प्रसाद, चुनरी, फल, मिठाई आदि माता को अर्पित किए जाते हैं। वहीं ...
15
16
Brahmacharini Devi : नवरात्रि का दूसरा दिन देवी ब्रह्मचारिणी के नाम है। आज इनकी पूजा-अर्चना की जाती है। यह शिव जी से विवाह हेतु प्रतिज्ञाबद्ध होने के कारण ये ब्रह्मचारिणी के नाम से जानी गईं। ब्रह्म यानी तपस्या और चारिणी यानी आचरण करने वाली। इस ...
16
17
Brahmacharini Devi :शारदीय नवरात्रि का पर्व है तथा नवरात्रि के दूसरे दिन ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है। मां दुर्गा की नौ शक्तियों में से ये दूसरी शक्ति हैं तथा उनका ज्योर्तिमय स्वरूप है। देवी ब्रह्मचारिणी की कृपा से सिद्धि तथा विजय की प्राप्ति ...
17
18
नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा की जाती है। सिद्धि और विजय देने वाली देवी ब्रह्मचारिणी को आज इस आरती से प्रसन्न किया जाता है। जय चतुरानन प्रिय सुख दाता, ब्रह्मा जी के मन भाती हो।
18
19
Navratri puja 2022 : नवरात्रि के दिनों में दुर्गा माता की आराधना की जाती है। इस दिन देवी शैलपुत्री के स्वरूप को पूजा जाता है और प्रतिपदा तिथि को उन्हें नैवेद्य के रूप में गाय का घी अर्पित करके ब्राह्मण को दान करना चाहिए। यहां पढ़ें माता शैलपुत्री के ...
19