आज से 9 दिन की चैत्र नवरात्रि आरंभ, इन 9 मंत्र और 9 शुभ उपायों से करें माता रानी को प्रसन्न

पुनः संशोधित शनिवार, 2 अप्रैल 2022 (11:19 IST)
हमें फॉलो करें
Chaitra Navratri 2022: हिन्दू नवर्ष से चैत्र नवरात्रि का प्रारंभ हो जाता है। इस बार 9 दिन की ही है नवरात्र। 2 अप्रैल से 11 अप्रैल 2022 तक होगी माता की पूजा। आओ जानते हैं माता को प्रसन्न करने के लिए 9 मंत्र और 9 शुभ उपाय।


माता दुर्गा के 9 शुभ मंत्र :
1.शैलपुत्री : ह्रीं शिवायै नम:।
2.ब्रह्मचारिणी : ह्रीं श्री अम्बिकायै नम:।
3.चन्द्रघण्टा : ऐं श्रीं शक्तयै नम:।
4.कूष्मांडा : ऐं ह्री देव्यै नम:।
5.स्कंदमाता : ह्रीं क्लीं स्वमिन्यै नम:।
6.कात्यायनी : क्लीं श्री त्रिनेत्रायै नम:।
7.कालरात्रि : क्लीं ऐं श्री कालिकायै नम:।
8.महागौरी : श्री क्लीं ह्रीं वरदायै नम:।
9.सिद्धिदात्री : ह्रीं क्लीं ऐं सिद्धये नम।
chaitra navratri muhurat 2022
chaitra navratri muhurat 2022
नवरात्रि के 9 शुभ उपाय :
1. नवरात्रि के दिनों में हर नौ दिन हनुमान जी को पान का बीड़ा अर्पित करें।

2. इन नौ अगर अखंड दीपक नहीं जला पा रहे हैं तो सुबह शाम घी या तेल का दीप जलाना न भूलें। दीपक में 4 लौंग डाल दें।
3. पांच प्रकार के सूखे मेवे लाल चुनरी में रखकर माता रानी को अर्पित करें।

4. देवी मंदिर में लाल रंग की ध्वजा(पताका, परचम, झंडा) किसी भी दिन जाकर चढ़ाएं।

5. देवी मां को ताजे पान के पत्ते पर सुपारी और सिक्के रखकर समर्पित करें।

6. मां दुर्गा को 7 इलायची और मिश्री का भोग लगाएं।

7. मखाने के साथ सिक्के मिलाकर देवी को अर्पित करें और फिर उसे गरीबों में बांट दें।
8. छोटी कन्याओं को छोटे-छोटे पर्स में दक्षिणा रखकर लाल रंग के किसी भी गिफ्ट के साथ भेंट करें।

9. नवरात्र के दौरान अपने घर में सोना या चांदी की कोई भी शुभ सामग्री (स्वास्तिक, ॐ, श्री, हाथी, कलश,दीपक, गरूड़ घंटी, पात्र, कमल, श्रीयंत्र,आचमनी, मुकुट, त्रिशूल) खरीदें और देवी दुर्गा के चरणों में रखें और इसकी पूजा करें। फिर नवरात्र के अंतिम दिन उस सामग्री को गुलाबी रेशमी कपड़े में बांधकर तिजोरी व रुपए रखने की जगह रख दें। इससे आश्चर्यजनक रूप से धन में वृद्धि होगी।



और भी पढ़ें :