गणतंत्र दिवस परेड: राजपथ पर शौर्य और संस्कृति की झलक...

नई दिल्ली| Last Updated: गुरुवार, 26 जनवरी 2017 (11:46 IST)
हमें फॉलो करें
अड़सठवें गणतंत्र दिवस के मौके पर आज पर देश की सैन्य ताकत, प्रौद्योगिकी  और समृद्ध सांस्कृतिक विरासत की अद्भुत झलक देखने को मिली। परेड में कुल 23 झाकियां, सैन्य बलों, अर्द्धसैनिक बलों, एनसीसी, एनएसएस तथा एनएसजी के 15 मार्चिंग दस्ते, संयुक्त अरब अमीरात का एक मार्चिंग दस्ता तथा उनके बैंडों ने हिस्सा लिया। स्वदेशी हल्का लड़ाकू विमान तेजस और देश में ही बनी धनुष तोप, कोर ऑफ मिलिट्री पुलिस के ‘श्वेत अश्व’ द्वारा मोटरसाइकिल पर हैरतंगेज कर देने वाले करतब तथा राष्ट्रीय सुरक्षा गार्ड के कमांडो परेड का मुख्य आकर्षण रहे। 
* 3 सुखोई 30 एमएआई विमानों ने बनाया त्रिशूल फार्मेशन।> * राजपथ पर 5 मिग 29 विमानों का फलक्रम फार्मेशन।   > * तेजस ने अपने प्रदर्शन से जीता सबका दिल। परेड में पहली बार शामिल हुआ है वायुसेना का तेजस।  * वायुसेना के हेलीकॉप्टर्स के फ्लाय पास्ट ने भी जीता दर्शकों का दिल।  
* 18 जवानों ने मोटर साइकिल पर बनाया सुदर्शन चक्र। 
* कोर ऑफ मिलेट्री के सफेद अश्व दस्ते का रोमांचक प्रदर्शन। 
* कला और संस्कृति के प्रदर्शन के बाद राजपथ पर शौर्य का प्रदर्शन। 



 
* इसके बाद स्कूली बच्चों ने अपने नृत्य से जीता सबका दिल। 
* वीरता पुरस्कार प्राप्त 25 बच्चे भी राजपथ से गुजरे। 
* कौशल विकास और उद्यमिता मंत्रालय की झांकी में 21वीं सदी के स्वर्णिम भारत की झलक। 
* केंद्रीय लोक निर्माण विभाग की झांकी में 'हरित भारत-स्वच्छ भारत' की झलक। 
* वैज्ञानिक और औद्योगिक अनुसंधान की झांकी ने भी झांकी में अपनी उपलब्धियों को बताया गया।  
* आवास और शहरी मंत्रालय की झांकी में प्रधानमंत्री आवास योजना के बारे में बताया गया। 
* सुक्ष्म और लघु उद्योग की झांकी में खादी के महत्व को दर्शाया गया। 
* केंद्रीय उत्पाद और सीमा शुल्क बोर्ड की झांकी में जीएसटी और एक कर, एक बाजार को दिखाया गया। 
* असम की झांकी में कामाख्या मंदिर के प्रांगण को दिखाया गया। भक्तिमय हुआ माहौल। 
* जम्मू-कश्मीर की झांकी में गुलमर्ग के शीतकालिन खेलों को दिखाया गया है। 
* गोवा की झांकी में वहां की संगीत विरासत की झलक।
* गोवा की झांकी में वहां की संगीत विरासत की झलक।
* राजपथ से गुजरी तमिलनाडु की झांकी। झांकी में करगामट्टम नृत्य को दिखाया गया। 
* पंजाब की झांकी को देख मस्ती के रंग में डूबे। झांकी में लोक नृत्य जागो आइया को दिखाया गया। 
* पश्चिम बंगाल की झांकी में शरद ऋतु में ग्रामीण बंगाल की हरियाली को दिखाया गया।  
* हरियाणा की झांकी में 'बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ' की थीम। झांकी में साक्षी मलिक और कल्पना चावला को दिखाया गया। 
* दिल्ली, हिमाचल की झांकियों ने भी जीता लोगों का दिल।
* कर्नाटक की झांकी में परंपरागत लोकनृत्य को दिखाया गया है। 
* राजपथ पर लक्ष्यद्वीप की झांकी में उसे पर्यटन स्थल के रूप दिखाया गया।
* गुजरात की झांकी में कच्छ की कला संस्कृति और लोक जीवन को दिखाया गया है। 
* महाराष्ट्र के बाद मणिपुर की झांकी। इसमें लाई इराउवा नृत्य की झलक। यह देवी को प्रसन्न करने के लिए किया जाता है। 
* महाराष्ट्र की झांकी में लोकमान्य तिलक को दिखाया गया है। इस साल उनकी 160वीं जयंति मनाई जा रही है।
* अरुणाचल की झांकी में याक नृत्य की झलक दिखाई दी।
* राज्यों की झांकी में सबसे पहले ओडिशा की झांकी। ओडिशा की झांकी में दोल यात्रा की झलक।  

 

 
* सेना के सामुहिक पाइप ड्रम बैंड में सेना की 13 बटालियनों के जवान शामिल।
* एनसीसी के छात्राओं के बैंड ने जीता दर्शकों का दिल। 
* 'कदम-कदम बढ़ाए जा' की धुन बजाते हुए निकला एनसीसी का मार्चिंग दस्ता।
* पहली बार एनएसजी का दस्ता भी गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल। एनएसजी का आदर्श वाक्य 'सर्वत्र सर्वोत्तम सुरक्षा'। 
* दिल्ली पुलिस का 68 जवानों का बैंड भी राजपथ पर। शान से निकला दिल्ली पुलिस का मार्चिंग दस्ता। दस्ते में 120 जवान।  
* सीआईएफ का बैंड भी अमर जवान की धुन बजाते हुए सलामी मंच के सामने से गुजरा।  
* सीआरपीएफ के 100 जवानों का बैंड भी राजपथ पर दर्शकों का मन मोहते हुए। यह दुनिया के सबसे बड़े अर्धसैनिक बलों में से एक। 
* समुद्री सीमा की रक्षा के लिए तैनात कोस्ट गार्ड का मार्चिंग दस्ता राजपथ पर। 
* ऊंट पर बैठे जवान 'हम है सीमा सुरक्षा बल' की धुन बजा रहे हैं।
* राजसी अंदाज के साथ बीएसएफ का ऊंट सवार दस्ता सलामी मंच के सामने से गुजरा।  
* नवीनतम संसाधनों से लैस डीआरडीओ की झांकी भी राजपथ से गुजरी। मेक इन इंडिया से बनी अस्त्र प्रणाली का भी प्रदर्शन। 
* इसके बाद वायुसेना की झांकी। झांकी में विभिन्न ऑपरेशंस के माध्यम से अपने पराक्रम को दिखाया गया। 
* वायुसेना का बैंड भी राजपथ पर।
* परेड स्थल पर भारतीय नौसेना की झांकी। इस झांकी में भारतीय मरीन कमांडो का एक दस्ता तैनात कार्रवाई के लिए तैनात।
* मद्रास सैपर्स ने भी किया मार्च पास्ट।  
* पंजाब और सिख रेजिमेंट के स्टार बैंड ने दर्शकों का मन मोहा।
* 9 गोरखा राइफल्स का दस्ता भी सलामी मंच के सामने से गुजरा। 
* सेना के शक्तिप्रदर्शन से दर्शकों में जोश का संचार।  
* देश में बना दुनिया का सबसे आधुनिक गन सिस्टम धनुष का भी प्रदर्शन।
* भारत ने किया आकाश का प्रदर्शन। जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल थल और वायुसेना का हिस्सा। 
* परमाणु हमले के वक्त काम करने वाले वाहन का दस्ता भी परेड स्थल पर।  
* स्वाति उपकरण भी राजपथ पर, डीआरडीओ में बना स्वदेशी रडार। 
* ब्रहोस मिसाइल रेजिमेंट का दस्ता भी पहुंचा। इस मिसाइल से जमीन, समुद्र और हवा में मार किया जा सकता है।
* स्वाति उपकरण भी राजपथ पर, डीआरडीओ में बना स्वदेशी रडार। 
* ब्रहोस मिसाइल रेजिमेंट का दस्ता भी पहुंचा। इस मिसाइल से जमीन, समुद्र और हवा में मार किया जा सकता है।
* थल सेना का टी-90 भीष्म भी परेड स्थल पर। 
* मैकेनाइज्ड इंफैंट्री का मार्च।  
* 61 कैवलरी का मार्चिंग दस्ते ने किया मार्च।
* परेड में अशोक चक्र विजेताओं के दस्ते ने किया मार्च पास्ट। 
* यूएई में मार्चिंग दस्ते में 149 जवान शामिल। 35 जवानों का मार्चिग दस्ता भी परेड का हिस्सा। 
* शुरू। परेड कमांडर मनोज मुकुंद नरवणे कर रहे हैं परेड का नेतृत्व। 
* हवलदार हंगपन दादा को मरणोपरांत अशोक चक्र सम्मान प्रदान किया गया। उनकी पत्नी चासेंग लवांग दादा को राष्ट्रपति ने  पुरस्कार प्रदान किया। 26 मई को कुपवाड़ा में शहीद हुए थे।
* राष्ट्रपति ने राजपथ पर फहराया तिरंगा। 
* राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के साथ ही समारोह के मुख्य अतिथि अबु धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायेद के साथ परेड स्थल पर पहुंचे। प्रधानमंत्री मोदी ने किया स्वागत।
* उपप्रधानमंत्री हामिद अंसारी भी मुख्य समारोह स्थल पर पहुंचे। प्रधानमंत्री मोदी ने किया स्वागत। * प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी राजपथ पर पहुंचे, पर्रिकर ने किया स्वागत।  
* रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर राजपथ पर पहुंचे।
*. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अमर जवान ज्योति पहुंचे। शहीदों को दी श्रद्धांजलि।
* राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी और अबु धाबी के क्राउन प्रिंस शेख मोहम्मद बिन जायेद कुछ ही देर में राजपथ पर पहुंचेंगे। 
* प्रधानमंत्री मोदी भी अमर जवान ज्योति पहुंचे। 
* रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर अमर जवान ज्योति पर पहुंचे।
* राजपथ पर चरम पर उत्साह, परेड देखने के लिए उमड़ी भीड़। 




और भी पढ़ें :