Indigo Airlines में दिव्यांग बच्चे को रोकने पर इंडिगो के CEO का बड़ा बयान

Last Updated: सोमवार, 9 मई 2022 (21:04 IST)
हमें फॉलो करें
रांची एयरपोर्ट पर स्पेशल नीड वाले बच्चे को विमान में चढ़ने से रोके जाने के मामले ने तूल पकड़ लिया। विवाद के बाद अब केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने एयरलाइन के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की चेतावनी दी है। इस पर इंडियो का बयान भी सामने आया है।

ने रांची हवाई अड्डे पर स्पेशल नीड वाले एक बच्चे यानी ऐसा बच्चा जिसे खास देखभाल की ज़रूरत होती है उसे विमान में चढ़ने से रोक दिया था। इंडिगो के सीईओ रोनोजॉय दत्ता की ओर से जारी बयान में कहा गया है कि 'इंडिगो में हम सभी इस घटना से दुखी हैं।'

अप्रैल से लेकर अब तक हमारी एयरलाइंस ने स्पेशल नीड वाले 75 हजार यात्रियों को उनकी मंजिल तक पहुंचाया है। हमारे क्रू और एयरपोर्ट स्टाफ को स्पेशल नीड वाले पैसेंजरों को संवेदनशीलता के साथ सर्विस देने के लिए ट्रेनिंग दी गई है। इसके बाद भी यह दुर्भाग्य घटना घटी।

दत्ता ने कहा कि चेक-इन और बोर्डिंग प्रक्रिया के दौरान हमारा इरादा परिवार को ले जाने का था, हालांकि, बोर्डिंग एरिया में टीनएजर की घबराहट दिख रही थी। सुरक्षा निर्देशों के मुताबिक कर्मचारियों को एक मुश्किल फैसला लेने के लिए मजबूर कर दिया।

दत्ता कहा कि 'हम इस बात को अच्छी तरह से जानते हैं कि खास जरूरत वालों के बच्चों की देखभाल के लिए अपना जीवन समर्पित करने वाले माता-पिता हमारे समाज के सच्चे नायक हैं। उनके आजीवन समर्पण की हमारी प्रशंसा के प्रतीक के तौर पर हम उनके बच्चे के लिए एक इलेक्ट्रिक व्हीलचेयर खरीदने की पेशकश करना चाहते हैं।
उचित कार्रवाई की जाएगी : केंद्रीय उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने इस मामले को लेकर ट्‍वीट करते हुए पूरे मामले पर गुस्सा जताया था। उन्होंने ट्‍वीट में कहा था कि इस तरह के बर्ताव को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। किसी भी इंसान को इस तरह की परिस्थिति से नहीं गुज़रना चाहिए। मैं खुद इस मामले की जांच कर रहा हूं, इसके बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।



और भी पढ़ें :