आधी रात को PM मोदी का काशी दर्शन, CM योगी के साथ देखा 'विकास', पहुंचे बनारस रेलवे स्टेशन

पुनः संशोधित मंगलवार, 14 दिसंबर 2021 (08:18 IST)
हमें फॉलो करें
वाराणसी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 2 दिन के वाराणसी दौरे पर हैं। उन्होंने सोमवार को अपने ड्रीम प्रोजेक्ट काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का लोकार्पण किया। आधी रात को प्रधानमंत्री विकास कार्य देखने के लिए काशी की सड़कों पर निकले। उन्होंने विश्वनाथ धाम क्षेत्र में हुए विकास कार्यों को देखा।

पीएम मोदी देर रात बनारस रेलवे स्टेशन पहुंचे। यहां उन्होंने प्लेटफार्म पर साफ-सफाई और अन्य व्यवस्थाओं को देखा और स्टॉल पर मौजूद दुकानदारों का हाथ हिलाकर अभिवादन किया। इस दौरान उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी उनके साथ मौजूद थे। प्रधानमंत्री ने देर रात सड़क पर निकलने का फैसला किया ताकि लोगों को किसी प्रकार की असुविधा नहीं हो।

क्रूज पर गंगा आरती : प्रधानमंत्री मोदी गंगा नदी के किनारे होने वाली आरती को देखने के लिए संत रविदास घाट से स्वामी विवेकानंद क्रूज (जहाज) पर सवार हुए। इस मौके पर घाटों पर हजारों दीपक जगमगा रहे थे।
प्रधानमंत्री ने ट्वीट किया, 'काशी की गंगा आरती हमेशा अंतर्मन को नयी ऊर्जा से भर देती है। आज काशी का बड़ा सपना पूरा होने के बाद दशाश्वमेध घाट पर गंगा आरती में शामिल हुआ और मां गंगा को उनकी कृपा के लिए नमन किया। नमामि गंगे तव पाद पंकजम्।'

उन्होंने एक छोटा वीडियो भी साझा किया जिसमें गंगा के घाट रंगबिरंगी रोशनी में सराबोर नजर आए। प्रधानमंत्री के साथ क्रूज पर सवार होने वालों में भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नड्डा, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज चौहान और हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर शामिल थे। क्रूज पर 12 मुख्यमंत्रियों के अलावा, भाजपा शासित राज्यों के तीन उपमुख्यमंत्री और उनके परिवार के सदस्य सवार थे।
प्रधानमंत्री और आरती को देखने के लिए विभिन्न घाटों पर हजारों की संख्या में लोग मौजूद थे। क्रूज जब दश्वामेध घाट पर रुका तो लोगों ने ‘हर हर महादेव’ का जयघोष किया। पुरोहितों के मंत्रोच्चारण, घंटियों की आवाज और शंखनाद से पूरा माहौल आध्यात्मिक था। मोदी ने लगभग एक घंटे की क्रूज की सवारी के दौरान ‘आरती’ के हिस्से के रूप में बाद में ‘लाइट एंड साउंड’ शो को भी देखा।



और भी पढ़ें :