Live Updates : धरने पर निलंबित सांसद, राज्यसभा दोपहर 2 बजे तक स्थगित

Last Updated: बुधवार, 1 दिसंबर 2021 (12:52 IST)
नई दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी दलों के सदस्यों ने संसद के शीतकालीन सत्र की शेष अवधि के लिए 12 राज्यसभा सदस्यों के निलंबन के विरोध में संसद में बुधवार को भी जमकर हंगामा हुआ। पल-पल की जानकारी...
 
12:52PM, 1st Dec
-संसद के मानसून सत्र के दौरान राज्यसभा में ‘अशोभनीय आचरण’ के लिए निलंबित किए गए 12 सांसद, इस कार्रवाई के विरोध में बुधवार को संसद परिसर में धरने पर बैठ गए और कहा कि वे निलंबन रद्द होने तक विरोध प्रदर्शन जारी रखेंगे।
-विपक्षी दलों के सदस्यों के हंगामे की वजह से राज्यसभा की बैठक बुधवार को एक बार के स्थगन के बाद करीब 12 बजे दोपहर दो बजे तक के लिए स्थगित।
11:35AM, 1st Dec
-लोकसभा में हंगामा, स्पीकर कुर्सी छोड़कर उठे। कहा-आप जवाब सुनने को तैयार नहीं।
-लोकसभा की कार्यवाही 12 बजे तक स्थगित।
11:18AM, 1st Dec
-लोकसभा में विपक्षी सांसदों का हंगामा
-राज्यसभा में निलंबन वापस लेने की मांग करते हुए विपत्री सांसदों ने जमकर किया हंगामा।
-हंगामें की वजह से राज्यसभा की कार्यवाही दोपहर 12 बजे तक स्थगित।
11:17AM, 1st Dec
जिन सदस्यों को निलंबित किया गया है उनमें मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के इलामारम करीम, कांग्रेस की फूलों देवी नेताम, छाया वर्मा, रिपुन बोरा, राजमणि पटेल, सैयद नासिर हुसैन, अखिलेश प्रताप सिंह, तृणमूल कांग्रेस की डोला सेन और शांता छेत्री, शिव सेना की प्रियंका चतुर्वेदी और अनिल देसाई तथा भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के विनय विस्वम शामिल हैं।
11:16AM, 1st Dec
-संसद भवन परिसर में विपक्ष का प्रदर्शन, निलंबन रद्द करने की मांग की।
-संसद परिसर में महात्मा गांधी की प्रतिमा के सामने प्रदर्शन में राहुल गांधी के अलावा राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव, द्रमुक के टीआर बालू, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की सुप्रिया सुले और कई अन्य सांसद भी मौजूद थे।
-विपक्षी सांसदों ने ‘वी वान्ट जस्टिस’, ‘निलंबन वापस लो’ के नारे लगाए।
11:15AM, 1st Dec
-कांग्रेस और कई अन्य विपक्षी दलों का कहना है कि 12 सदस्यों का निलंबन रद्द किया जाना चाहिए ताकि सदन सुचारू रूप से चल सके। -मल्लिकार्जुन खड़गे ने मंगलवार को राज्यसभा के सभापति एम वेंकैया नायडू को पत्र लिखकर आग्रह किया था कि वह निलंबन के फैसले पर पुनर्विचार करें और निलंबन रद्द करें।
-संसद के सोमवार को आरंभ हुए शीतकालीन सत्र के पहले दिन कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों के 12 सदस्यों को पिछले मॉनसून सत्र के दौरान अशोभनीय आचरण करने की वजह से, वर्तमान सत्र की शेष अवधि तक के लिए राज्यसभा से निलंबित कर दिया गया।



और भी पढ़ें :