डिजिटल पेमेंट के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने 'भीम' एप किया लॉन्च और लकी ड्रॉ खोला

Last Updated: शुक्रवार, 30 दिसंबर 2016 (22:35 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल पेमेंट को आसान बनाने के लिए शुक्रवार को बीएचआईएम एप लॉन्च किया। 'बीएचआईएम' का मतलब 'भारत इंटरफेस ऑफ मनी' एप को लॉन्च किया। एप को लॉन्च करते हुए पीएम मोदी ने खादी ग्रामोद्योग को पैसा ट्रांसफर किया। पीएम ने एप के जरिए 125 रुपए खादी ग्रामोद्योग को ट्रांसफर किए। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने डिजिटल बनो इंडिया योजना के अंतर्गत लकी ड्रॉ ग्राहक योजना और लकी ड्रॉ डिजिधन व्यापार योजना का गुरुवार को उन्होंने लकी ड्रॉ निकाला।  मोदी इस मौके पर नोटबंदी का विरोध कर रहे अपने राजनीतिक विरोधियों की चुटकी लेने से नहीं चूके। उन्होंने कहा कि इस पहल का उद्देश्य देश की संपत्ति को खाने वाले ‘चूहों’ को पकड़ना था। प्रधानमंत्री ने हालांकि अपने संबोधन में किसी का नाम नहीं लिया लेकिन यह स्पष्ट रूप से नोटबंदी का विरोध कर रहे विपक्ष पर केंद्रित था। मोदी ने कहा कि एक नए स्वदेशी भुगतान एप 'भीम' का नाम भारतीय संविधान के मुख्य शिल्पी भीमराव अंबेडकर के नाम पर रखा गया। >
>
 कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा उन पर लगाए जा रहे निजी भ्रष्टाचार के आरोपों का उल्लेख किए बगैर प्रधानमंत्री ने पूर्ववती संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन सरकार के समय हुए घोटालों पर निशाना साधते हुए कहा कि एक वक्त था जब यह चर्चा होती थी कि कोयले में कितना गया, टू जी में कितना गया लेकिन उनकी सरकार के समय यह चर्चा हो रही है कि बैंकों में कितना धन आ रहा है।
 
नोटबंदी पर पूर्व वित्त मंत्री एवं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम का नाम लिए बगैर उनके इस बयान पर कि खोदा पहाड़ निकली चुहिया, मोदी ने चुटकी लेते हुए कहा कि दरअसल हम चुहिया को ही पकड़ना चाहते थे। यह चुहिया ही सबकुछ चट कर जाती थी। गरीबों का हक मारने वाली चुहिया को ही पकड़ने का काम चल रहा है और यह काम अपनी गति से चल रहा है। डिजिटल भुगतान को लेकर संदेह व्यक्त कर रहे लोगों को आड़े हाथों लेते हुए श्री मोदी ने कहा कि निराशावादियों के लिए उनके पास कोई औषधि नहीं है और आशावादियों के लिए हजारों अवसर हैं। 



और भी पढ़ें :