Live Updates : दशहरे पर पीएम मोदी बोले- राम का मतलब मानवता का अनुसरण

Last Updated: शुक्रवार, 15 अक्टूबर 2021 (11:50 IST)
नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सूरत में एक कार्यक्रम में अपने वर्चुअल संबोधन में कहा कि सरदार पटेल का अनुसरण करना चाहिए जिन्होंने कहा था कि विकास में जातियां और सम्प्रदाय बाधक नहीं होने चाहिए। पल-पल की जानकारी...

11:37AM, 15th Oct
-पीएम नरेंद्र मोदी ने किया सूरत में बॉयज होस्टल फेज 1 का उद्घाटन।
-पीएम मोदी ने कहा, भगवान राम के अनुसरण का अर्थ है- मानवता का और ज्ञान का अनुसरण। इसलिए गुजरात की धरती से बापू ने रामराज्य के आदर्शों पर चलने वाले समाज की कल्पना की थी।
-मुझे खुशी है कि गुजरात के लोग उन मूल्यों को मजबूती से आगे बढ़ा रहे हैं। सौराष्ट्र पटेल सेवा समाज द्वारा शिक्षा के क्षेत्र में आज की गई एक पहल भी इसी कड़ी का एक हिस्सा है।
-भारत इस समय अपनी आजादी के 75वें वर्ष में है। ये अमृतकाल हमें नए संकल्पों के साथ ही, उन व्यक्तित्वों को याद करने की भी प्रेरणा देता है, जिन्होंने जनचेतना जागृत करने में बड़ी भूमिका निभाई। आज की पीढ़ी को उनके बारे में जानना बहुत आवश्यक।
-इस स्थान को इसलिए विकसित किया गया था ताकि शिक्षा का प्रसार किया जा सके, गांव के विकास से जुड़े कामों में तेजी लाई जा सके।
09:34AM, 15th Oct
-370 हटने से जम्मू-कश्मीर के लोगों को फायदा।
-जम्मू-कश्मीर में आतंकी टारगेट किलिंग कर रहे हैं।
-आतंकी घाटी में फिर डर को स्थापित करना चाहते हैं।
09:15AM, 15th Oct
-संघ प्रमुख भागवत से कहा कि आचरण बदलेंगे तभी कोरोना जाएगा।
-OTT पर कोई नियंत्रण नहीं है।
-सोशल मीडिया आग में घी पर काम कर रहा है।
-बच्चे मोबाइल पर क्या देख रहे नहीं पता?
-जनसंख्या नीति पर दोबारा विचार की जरूरत।
-बढ़ती जनसंख्या से देश में कई तरह की परेशानी।
-जनसंख्या का असंतुलन भी समस्या।
09:05AM, 15th Oct
-भागवत ने कहा कि हिंदू समाज को बांटने की कोशिश हो रही है।
-जन्म दिन, त्योहार जैसे पर्व साथ मनाएं।
-अपना भजन, अपना भोजन का बड़ा महत्व। 
-हम सबका आचरण स्वदेशी होना चाहिए।
-पिछले कुछ समय में ड्रग्स की आदत बढ़ी है। नशीले पदार्थों पर नियंत्रण होना चाहिए।
-कोरोना ने कई प्रतिभाओं को छिना।
-कोरोना से बहुत ज्यादा आर्थिक नुकसान
-अभी भी तीसरी लहर की आशंका।
08:39AM, 15th Oct
-संघ प्रमुख भागवत ने कहा कि देश को जोड़ने वाली भाषा चाहिए।
-लोगों से सकारात्मक संवाद होना चाहिए।
 
08:37AM, 15th Oct
-संघ प्रमुख मोहन भागवत ने कहा-स्वतंत्रता के लिए लंबा संघर्ष करना पड़ा।
-मुट्ठी भर नमक से गांधीजी ने आंदोलन शुरू किया।
-हर वर्ग के लोगों ने त्याग और बलिदान किया।
-स्वतंत्रता के साथ विभाजन का भी दर्द मिला।
-अब फिर विविधता की चौड़ी खाई बनी।
07:52AM, 15th Oct
-संघ प्रमुख ने की शस्त्र पूजा, कुछ ही देर में होगा संबोधन।
-कोरोना की वजह से सिर्फ 200 कार्यकर्ता मौजूद।
07:29AM, 15th Oct
-पीएम मोदी ने ट्वीट कर देशवासियों को विजयादशमी की शुभकामनाएं दी।



और भी पढ़ें :