jammu-kashmir : लश्कर-ए-इस्लाम की कश्मीरी पंडितों को धमकी, घाटी छोड़ दें या मरने के लिए तैयार रहें...

पुनः संशोधित सोमवार, 16 मई 2022 (00:22 IST)
हमें फॉलो करें
श्रीनगर। आतंकवादी समूह लश्कर-ए-इस्लाम ने दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में रह रहे कश्मीरी पंडितों को धमकी देते हुए घाटी से चलने जाने की धमकी दी है। लश्कर ने एक धमकी भरा पत्र जारी कर लिखा है कि हवाल ट्रांजिट आवास में रह रहे सरकारी कर्मचारी घाटी छोड़ दें या मौत का सामना करने के लिए तैयार रहें।
पत्र में लिखा गया है कि सभी प्रवासी और आरएसएस एजेंट छोड़ दो या मौत का सामना करने के लिए तैयार रहो। यह धमकी भरा पत्र उस समय जारी किया गया है जब हाल ही में आतंकियों ने राहुल भट्ट नाम के एक राजस्व अधिकारी को अपना निशाना बनाया है। आतंकियों ने बड़गाम स्थित तहसील दफ्तर में घुसकर उनको गोली मार दी।
ALSO READ:

उद्धव सरकार की बाबरी मस्जिद से तुलना, देवेंद्र फडणवीस बोले- जब तक गिरा नहीं दूंगा, चैन से नहीं बैठूंगा
पत्र में लिखा गया है कि ऐसे कश्मीर पंडित जो कश्मीर में एक और इजरायल चाहते हैं और कश्मीरी मुस्लिमों को मारना चाहते हैं, उनके लिए यहां कोई जगह नहीं है। अपनी सुरक्षा दोहरी या तिहरी कर लो, टारगेट किलिंग के लिए तैयार रहो। तुम मरोगे।
भाजपा की जम्मू कश्मीर इकाई ने कहा कि कि हाल में आतंकवादियों द्वारा हिन्दुओं की हत्या की घटनाओं में आई तेजी के कारण कश्मीरी पंडित कर्मचारियों में असुरक्षा की भावना बढ़ रही है।

भाजपा की जम्मू कश्मीर इकाई के अध्यक्ष रविंदर रैना के नेतृत्व में पार्टी प्रतिनिधिमंडल ने राजभवन में उपराज्यपाल मनोज सिन्हा से मुलाकात की और उन्हें एक ज्ञापन सौंपा जिसमें कहा गया कि अगर कश्मीरी पंडित कर्मचारी घाटी छोड़ देंगे तो यह एक 'विनाशकारी कदम' होगा।



और भी पढ़ें :