चला मोदी का जादू, पीछे हटी चीनी सेना...

लेह| Last Updated: शुक्रवार, 19 सितम्बर 2014 (09:31 IST)
हमें फॉलो करें
लेह। पूर्वोत्तर लद्दाख के चुमार क्षेत्र में चार दिनों तक चरम पर रही तनाव की स्थिति के बाद गुरुवार रात चीनी सैनिकों ने भारतीय क्षेत्र से पीछे हटना शुरू कर दिया। आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी। सूत्रों ने बताया कि चीनी सैनिक रात 9 बजकर 45 मिनट से अपने क्षेत्र में लौटने लगे।
 
उल्लेखनीय है कि प्रधानमंत्री मोदी ने बुधवार को चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग से चर्चा के दौरान भारतीय सीमा पर चीनी सेना की घुसपैठ पर सख्त नाराजगी जाहिर की थी। 
 
उन्होंने कहा कि इसके बाद लेह से 300 किलोमीटर दूर पूर्व में स्थित इस क्षेत्र में भारी संख्या में मौजूद भारतीय सैनिकों ने भी अपनी उपस्थिति को कम करना शुरू कर दिया।
 
सूत्रों ने बताया कि स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है क्योंकि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) वास्तविक नियंत्रण रेखा के पास डेरा डाले हुए है और स्थिति की शुक्रवार को समीक्षा की जाएगी।
 
सूत्रों बताया कि चीनी पक्ष ने तड़के इस इलाके में अपने सैनिकों की संख्या में वृद्धि करनी शुरू कर दी थी जो बैनर लिए हुए थे जिनमें भारतीय सेना से इलाके से चले जाने को कहा गया था। इस क्षेत्र में चीनी सैनिकों की संख्या बढ़कर 600 हो गई थी।
 
उन्होंने कहा कि चीनी हेलीकॉप्टरों को पीएलए के सैनिकों के लिए कम से कम तीन बार भोजन के पैकेट गिराते देखा गया।
 
भारत ने भी इलाके में कुमुक भेजी है और चीनी सैनिकों को आगे नहीं बढ़ने दिया जा रहा है तथा उनसे पीछे हटने को कहा गया है।
 
चीनी पक्ष एलएसी के पास अपनी ओर सड़क का निर्माण कर रहा है लेकिन रविवार को उसके श्रमिक निर्माण कार्य के लिए भारतीय क्षेत्र में प्रवेश कर गए। 
 
 
देमचक में स्थिति अब भी तनावपूर्ण... अगले पन्ने पर...



और भी पढ़ें :