हुंडई और किआ की कारों में लग सकती है आग, घर के बाहर पार्क करने की सलाह, 5 लाख गाड़ियां वापस मंगवाई

Last Updated: गुरुवार, 10 फ़रवरी 2022 (11:48 IST)
हमें फॉलो करें
जिनके पास हुंडई और किआ की कारें हैं उनके लिए ये चिंति‍त करने वाली खबर है। दक्षिण कोरिया की इन ऑटो कंपनियों ने अमेरिका में करीब 5 लाख कारों और एसयूवी मालिकों को इन्हें घर के बाहर पार्क करने की सलाह दी है।
इन कारों में आग लगने का खतरा है। पार्किंग की स्थिति में भी इनमें आग लग सकती है। कारों को वापस बुलाए जाने की भी खबर है।

दरअसल, एक रिपोर्ट के मुताबिक हुंडई और किआ अमेरिका में अपनी कई कारों और एसयूवी को वापस मंगा रही हैं। उनका कहना है कि इन गाड़ियों में कुछ तकनीकी खराबी की वजह से एंटी-लॉक ब्रेक कंप्यूटर कंट्रोल मॉड्यूल शॉर्ट सर्किट हो सकता है और इससे इंजन में आग लग सकती है।

गाड़ी के खड़े रहने की स्थिति में भी ऐसा हो सकता है। यही वजह है कि इन कंपनियों में गाड़ियों को घर से बाहर पार्क करने को कहा है।

रिकॉल में 2014-2016 किआ स्पोर्टेज, 2016-2018 किआ के900 और 2016-2018 हुंडई सांता फ़े वाहन शामिल हैं। इसमें 126,747 किआ वाहन और 357,830 हुंडई वाहन शामिल हैं। हालांकि किसी के हताहत होने की खबर नहीं है, अब तक कुल 11 आग की घटनाएं हुई हैं।

नेशनल हाईवे ट्रैफिक सेफ्टी एडमिनिस्ट्रेशन (NHTSA) वाहन मालिकों से वाहन निर्माताओं की सलाह का पालन करने को कहा है। NHTSA ने कहा है कि जैसे-जैसे आप आगे बढ़ेंगे आग का खतरा बढ़ सकता है।" इसलिए बंद होने पर भी वाहनों को दूसरों से दूर खड़ा करना चाहिए।

क्‍या सफाई दी किआ और हुंडई ने?
दक्षिण कोरिया के विदेश मंत्री चुंग यूई यांग ने मंगलवार को विदेश मंत्री एस जयशंकर को फोन किया और हुंडई पाकिस्तान के कश्मीर संबंधी ट्वीट पर अपना खेद व्यक्त किया। पाकिस्तान की हुंडई की ओर से किए गए ट्वीट पर भारत ने कड़ी आपत्ति दर्ज की थी। आपको बता दें कि ये दोनों दक्षिण कोरियाई कंपनियां हैं। किआ और हुंडई ने भी इसको लेकर माफी मांगी है।

हुंडई कंपनी के पाकिस्‍तानी डीलर हुंडई पाकिस्तान के उस ट्वीट के बाद जिसमें उसने कश्मीर के अलगाववादियों का समर्थन किया था। कुछ ऐसा ही ट्विट किया मोटर्स पाकिस्तान की तरफ से आया। हालांकि, इसके बाद हुंडई इंडिया की ओर से बयान जारी करके कहा गया है कि भारत कंपनी का दूसरा घर है। कंपनी इस तरह की विचारधारा का कोई समर्थन नहीं करती है।



और भी पढ़ें :