दिल्ली में वायु गुणवत्ता ‘बहुत खराब’ श्रेणी में, केंद्र ने किया टास्क फोर्स का गठन

पुनः संशोधित शुक्रवार, 3 दिसंबर 2021 (11:15 IST)
नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट की चेतावनी के बाद ने दिल्ली में वायु प्रदूषण से निपटने के लिए का गठन किया है। इस संबंध में सरकार की तरफ से शीर्ष अदालत में हलफनामा दायर कर दिया गया है। गुरुवार को ही कोर्ट ने केंद्र से कहा था कि 24 घंटों के भीतर कोई ठोस कदम उठाएं नहीं तो हमारी तरफ से निर्देश जारी किए जाएंगे।

राष्ट्रीय राजधानी में वायु गुणवत्ता शुक्रवार की सुबह ‘बहुत खराब’ श्रेणी में दर्ज की गई और न्यूनतम तापमान मौसम के औसत तापमान से तीन डिग्री अधिक 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के आंकड़ों के अनुसार, वायु गुणवत्ता सूचकांक (AQI) शुक्रवार को सुबह 9 बजे 358 रहा। पड़ोसी एनसीआर शहरों फरीदाबाद (289) और ग्रेटर नोएडा (250) में वायु गुणवत्ता शुक्रवार को सुबह ‘खराब’ श्रेणी में दर्ज किया गया। गाजियाबाद में (331), गुरुग्राम में (309) और नोएडा (315) में एक्यूआई ‘बहुत खराब’ श्रेणी में रहा।
भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने बताया कि राष्ट्रीय राजधानी में न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो मौसम के औसत से तीन डिग्री अधिक रहा। अधिकतम तापमान 22 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है। सापेक्षिक आर्द्रता सुबह साढ़े आठ बजे 91 प्रतिशत दर्ज की गई।

शून्य से 50 के बीच एक्यूआई को अच्छा माना जाता है, 51 से 100 के बीच एक्यूआई संतोषजनक, 101 से 200 के बीच मध्यम, 201 से 300 के बीच खराब, 301 से 400 के बीच बहुत खराब, और 401 से 500 के बीच एक्यूआई को गंभीर श्रेणी में माना जाता है।



और भी पढ़ें :