IMD: दिल्ली में 'ब्रेक मानसून' के एक और चरण में प्रवेश करने की संभावना

Last Updated: गुरुवार, 26 अगस्त 2021 (08:46 IST)
नई दिल्ली। राष्ट्रीय राजधानी और उत्तर-पश्चिम भारत के इसके आस-पास के इलाके 'ब्रेक मानसून' के एक और चरण में प्रवेश कर सकते हैं। ऐसा इस मौसम में तीसरी बार होने जा रहा है, क्योंकि मानसून कम दबाव वाला क्षेत्र हिमालय की तलहटी के करीब पहुंच गया है और इसके वहां एक और दिन रहने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने यह जानकारी दी।
ALSO READ:
जयशंकर की अध्यक्षता में अफगान संकट पर विपक्षी दलों के साथ आज बैठक

आईएमडी (IMD) ने एक बयान में बताया कि मानसून हिमालय की तलहटी के नजदीक है। इसके वहां आज तक यानी 26 अगस्त तक रहने की संभावना है। भारत मौसम विज्ञान विभाग के वरिष्ठ वैज्ञानिक आरके जेनामणि ने बताया कि क्षेत्र में अभी 'मानसून कमजोर' है। उन्होंने कहा कि अगर मानसून हिमालय की तलहटी के क़रीब स्थानांतरित होता है और वहां लगातार 2 से 3 दिन बना रहता है तो हम उसे 'ब्रेक मानसून' (मानसून क्रम टूटने वाला चरण) कहते हैं। यह बुधवार को भी तलहटी में है और इसके 1 और दिन वहां रहने की संभावना है।


आईएमडी ने कहा कि 27 अगस्त को उत्तर-पश्चिम और उससे सटे पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी में चक्रवाती क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके 29 अगस्त से पश्चिमी मानसून के कम दबाव वाले क्षेत्र को नीचे खींचने की संभावना है जिससे दिल्ली समेत उत्तर-पश्चिमी भारत में महीने के अंत में बारिश हो सकती है। शहर में इस महीने में अब तक सामान्य 210.6 मिमी बारिश की तुलना में 214.5 मिमी बारिश हुई। आमतौर पर राजधानी में इस महीने 247.7 मिमी बारिश होती है।
उत्तराखंड के कुछ कुछ हिस्सों में हुई बारिश : मानसून की ट्रफ फिरोजपुर, करनाल, बरेली, गोरखपुर से होते हुए पूर्व की ओर अरुणाचल प्रदेश की तलहटी में जा रही है। मध्य पाकिस्तान के ऊपर एक चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र बना हुआ है। एक अन्य चक्रवाती परिसंचरण तमिलनाडु तट के पास बंगाल की खाड़ी के दक्षिण-पश्चिम में समुद्र तल से लगभग 3।2 किलोमीटर ऊपर है। पिछले 24 घंटों के दौरान पूर्वोत्तर बिहार, अरुणाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों, तटीय ओडिशा, तमिलनाडु, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के कुछ हिस्सों और उत्तराखंड के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हुई।

ALSO READ:Panchayat election : के 6 जिलों में मतदान

स्काईमेट के अनुसार शेष पूर्वोत्तर भारत, उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार के शेष हिस्सों, उत्तरप्रदेश, हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों, गंगीय पश्चिम बंगाल, आंतरिक ओडिशा, पूर्वी मध्यप्रदेश, विदर्भ के कुछ हिस्सों, तेलंगाना, कर्नाटक, केरल, लक्षद्वीप, कोंकण और गोवा, दक्षिण गुजरात और रायलसीमा में हल्की से मध्यम बारिश हुई। सौराष्ट्र और कच्छ, दक्षिण-पूर्वी राजस्थान, पंजाब के कुछ हिस्सों, पश्चिम और दक्षिण आंतरिक कर्नाटक में हुई।
अगले 24 घंटों के दौरान सिक्किम, उपहिमालयी पश्चिम बंगाल, असम, मेघालय, हिमाचल प्रदेश, नगालैंड के कुछ हिस्सों, बिहार के कुछ हिस्सों, पूर्वी उत्तरप्रदेश, अंडमान और निकोबार द्वीप समूह, उत्तराखंड और तमिलनाडु के कुछ हिस्सों में हल्की से मध्यम बारिश के साथ कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। शेष पूर्वोत्तर भारत, हिमाचल प्रदेश, झारखंड के कुछ हिस्सों, गंगीय पश्चिम बंगाल, ओडिशा, छत्तीसगढ़, पूर्वी मध्यप्रदेश, तेलंगाना के कुछ हिस्सों, रायलसीमा, कर्नाटक, केरल और लक्षद्वीप में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है। पश्चिम मध्यप्रदेश, गुजरात के कुछ हिस्सों और महाराष्ट्र में हल्की बारिश संभव है।(एजेंसियां)



और भी पढ़ें :