देश में ‘वैक्सीनेशन’ 50 करोड़ के पार, इन 5 राज्यों में 1 करोड़ से ज्यादा टीकाकरण

Last Updated: शुक्रवार, 6 अगस्त 2021 (21:01 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली, कोरोना महामारी में वैक्‍सीनेशन सबसे बडा हथि‍यार और बचाव बनकर सामने आया है। दिलचस्‍प बात यह है कि कोरोना महामारी के खिलाफ देश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 50 करोड़ के पार हो गया है।

शुक्रवार को स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने ट्वीट किया, ‘कोरोना से लड़ाई में भारत ने ऐतिहासिक उपलब्धि प्राप्त की है, देश ने टीकाकरण में 50 करोड़ के आंकड़े को पार कर लिया है। सभी को बधाई एवं स्वास्थ्यकर्मियों का धन्यवाद’

देशभर में कोरोना के खिलाफ टीकाकरण अभियान इसी साल 16 जनवरी से शुरू हुआ था। अब इतने समय बाद यह आंकडा एक बडी उपलब्‍धि‍ माना जा रहा है।

केंद्र सरकार ने इस साल के अंत तक 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के सभी पात्र लोगों का टीकाकरण कर लेने का भरोसा जताते हुए शुक्रवार को कहा कि इस सिलसिले में उसकी ओर से सभी आवश्यक तैयारी की जा रही हैं। रसायन व उर्वरक मंत्री मनसुख मांडविया ने राज्यसभा में एक सावल के लिखित जवाब में यह जानकारी दी।

दिसंबर 2021 तक 18 वर्ष और उससे ऊपर की पूरी आबादी का टीकाकरण कर लिए जाने संबंधी एक सवाल का जवाब देते हुए मांडविया ने कहा कि भारत सरकार ने देश में कोविड-19 के उत्पादन और उपलब्धता के अनुसार पात्र लाभार्थियों के लिए कोविड-19 टीके सुरक्षित करने के लिए सभी तैयारी और प्रबंध कर लिए गए हैं।

उन्होंने कहा, आशा है कि जनवरी 2021 से दिसंबर 2021 के बीच 18 वर्ष और उससे अधिक आयु के पात्र लाभार्थियों का टीकाकरण करने के लिए पर्याप्त मात्रा में कोविड टीके उपलब्ध होंगे।

आंकड़ों के अनुसार देश के पांच राज्यों मध्यप्रदेश, गुजरात, राजस्थान, महाराष्ट्र और उत्तर प्रदेश में 18 से 44 साल की उम्र के एक करोड़ से ज्यादा लोगों को टीका दिया जा चुका है।

एक तरफ देश में वैक्सीनेशन रफ्तार पकड़ रही है तो दूसरी तरफ कोरोना के आंकड़ें डरा रहे हैं। कोरोना मरीजों की दैनिक रिकवरी संख्या लगातार दूसरे दिन 40 हजार से अधिक दर्ज की गई है। वहीं, अगस्त माह के पहले सप्ताह में नए संक्रमितों की संख्या बढ़ गई है. एक्टिव केस भी घटने की बजाय बढ़ गए हैं।



और भी पढ़ें :