UP, उत्तराखंड, मणिपुर, गोवा में BJP तो पंजाब में AAP की रिकॉर्डतोड़ जीत

Last Updated: शुक्रवार, 11 मार्च 2022 (01:18 IST)
हमें फॉलो करें
नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने राजनीतिक दृष्टि से महत्वपूर्ण माने जाने वाले राज्य उत्तर प्रदेश के अलावा उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में अपनी सत्ता बरकरार रखी, जबकि आम आदमी पार्टी (AAP) ने 3 चौथाई बहुमत के साथ पंजाब में प्रचंड जीत हासिल की है। ने पंजाब में अपने जबरदस्त प्रदर्शन के साथ 2024 के लोकसभा के पहले विपक्षी खेमे में राष्ट्रीय स्तर पर महत्वपूर्ण उपस्थिति दर्ज कराई है।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता और मुख्यमंत्री की कल्याणकारी योजनाओं के प्रभावी क्रियान्वयन की बदौलत ‘नया इतिहास’ रचते हुए करीब तीन दशकों बाद उत्तर प्रदेश में निवर्तमान सरकार की सत्ता में वापसी हुई है। इसके साथ ही भाजपा के लिए होली का जश्न मनाने का मौका एक सप्ताह पहले आ गया।

अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व वाली आप को दिल्ली के बाहर अप्रत्याशित जनादेश और गोवा में दो सीटों से विपक्षी खेमे में उसकी मजबूत स्थिति बनने की संभावना है। केजरीवाल ने पंजाब में पार्टी के प्रदर्शन को क्रांति बताया।

मोदी ने दिल्ली में भाजपा मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि यह नतीजे पार्टी के गरीब हितैषी और अति सक्रिय शासन पर जनता की बड़ी मजबूत मुहर है। उन्होंने कहा, जो लोग उत्तर प्रदेश को जाति के चश्मे से देखते हैं, वे इसका अपमान करते हैं, राज्य के लोगों ने 2014 से विकास की राजनीति के लिए बार-बार वोट दिया है।

का खराब प्रदर्शन : फरवरी और मार्च में हुए विधानसभा चुनावों के परिणाम लोगों के मिजाज को भांपने का भी मौका था। चुनावी मुकाबले में सभी राज्यों में कांग्रेस का प्रदर्शन बेहद खराब रहा। कांग्रेस, जो अब केवल राजस्थान और छत्तीसगढ़ में सत्ता में है, पंजाब हार गई और गांधी भाई-बहनों, राहुल और प्रियंका के जोरदार चुनाव प्रचार अभियान के बावजूद उत्तर प्रदेश में केवल दो सीटें हासिल कर सकी।

अब कांग्रेस की तरह आम आदमी पार्टी भी दो राज्यों में सत्ता में होगी। अंतिम रूझान और नतीजों के मुताबिक उत्तर प्रदेश में आदित्यनाथ ने पूर्ण कार्यकाल के बाद राज्य में सत्ता में वापसी की है। भाजपा 272 सीटें जीत चुकी है और 1 सीट पर आगे चल रही है।

किसान आंदोलन का नहीं हुआ असर : उत्तर प्रदेश में भाजपा के प्रदर्शन ने यह भी संकेत दिया कि पिछले साल कोविड-19 की विनाशकारी दूसरी लहर और तीन विवादास्पद कृषि कानूनों के खिलाफ किसानों द्वारा किए गए विरोध का राज्य में पार्टी के प्रदर्शन पर कोई बड़ा प्रभाव नहीं पड़ा।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य के लोगों ने जाति और धर्म की राजनीति को दरकिनार करते हुए प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में भाजपा और उसके सहयोगियों की जीत सुनिश्चित की है।

उन्होंने लखनऊ स्थित प्रदेश भाजपा मुख्यालय में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि विपक्ष द्वारा पिछले दो-तीन दिनों से चलाए जा रहे 'भ्रामक' अभियान को उन लोगों ने दरकिनार कर दिया है, जिन्होंने भाजपा के अच्छे शासन में विश्वास जताया।
ALSO READ:

उत्तर प्रदेश की जीत मोदी की नीतियों में जनता के अटूट विश्वास का नतीजा : योगी
उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव, 2022 में अपराधियों और माफिया के खिलाफ ‘बुलडोजर’ चलाने का स्लोगन देकर बहुमत से सत्ता में लौटे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को उनके समर्थकों ने ‘बुलडोजर बाबा’ का नया नाम दिया है।

लखनऊ, प्रधानमंत्री मोदी के संसदीय जिला वाराणसी और योगी के अपने क्षेत्र गोरखपुर सहित राज्य के विभिन्न हिस्सों में जीत से उत्साहित पार्टी कार्यकर्ताओं ने विजय जुलूस निकाला और ‘बुलडोजर बाबा जिंदाबाद’ का नारा लगाते हुए मुख्यमंत्री को नया नाम देते दिखे।
समाजवादी पार्टी ने उत्तर प्रदेश में 124 सीटों पर जीत दर्ज की और 1 पर बढ़त बनाए हुए है। भाजपा की सहयोगी पार्टी अपना दल (सोनेलाल) ने 12 सीटों पर जीत हासिल की है। मायावती की बहुजन समाज पार्टी ने 2017 में 19 सीटें जीती थी लेकिन इस बार केवल एक सीट पर जीत हासिल की है।

भाजपा ने लगभग सभी राज्यों में अपने मत प्रतिशत में वृद्धि की, जिसमें पंजाब में मामूली वृद्धि भी शामिल है, जहां वह सिर्फ दो सीटें जीतने में सफल रही। पंजाब चुनावों में आप भी दिल्ली से बाहर अपनी पकड़ मजबूत करने में कामयाब हो गई।
पंजाब में आप की मजबूत लहर में कई कद्दावर नेताओं को हार का सामना करना पड़ा। इनमें शिरोमणि अकाली दल प्रमुख सुखबीर सिंह बादल और उनके पिता प्रकाश सिंह बादल, कांग्रेस नेता एवं मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी, पूर्व मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और कांग्रेस की पंजाब इकाई के अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू शामिल हैं।

केजरीवाल ने दिल्ली में पार्टी मुख्यालय में कहा, पहले यह क्रांति दिल्ली में हुई, फिर पंजाब में और अब यह पूरे देश में होगी। पंजाब में आम आदमी पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार भगवंत मान ने कहा कि राज्य के नए मंत्रिमंडल का शपथ ग्रहण समारोह नवांशहर जिले के खटकरकलां में होगा जो महान स्वतंत्रता सेनानी भगत सिंह का पैतृक गांव है। पंजाब में 2017 के चुनाव में आप ने 18 सीटों पर जीत हासिल की थी।

आप के नेता राघव चड्ढा ने संगरूर में भगवंत मान के किराए के आवास पर पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा, आने वाले दिनों में आप एक राष्ट्रीय दल के रूप में उभरेगी....पार्टी राष्ट्रीय स्तर पर कांग्रेस की जगह ले लेगी।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया, जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करते हैं। जो लोग जीते हैं उन्हें शुभकामनाएं। सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं और स्वयंसेवियों को उनकी कड़ी मेहनत और समर्पण के लिए बधाई। हम इससे सबक लेंगे और भारत के लोगों के हित में काम करते रहेंगे।

खंडित जनादेश के पूर्वानुमान को खारिज करते हुए गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत भाजपा को जीत दिलाने में कामयाब रहे। भाजपा ने कहा है कि उसे महाराष्ट्रवादी गोमांतक पार्टी (दो सीट) और तीन निर्दलीय विधायकों से समर्थन के पत्र मिले हैं, जिससे सत्तारूढ़ दल 21 के बहुमत के आंकड़े को पार कर सकता है।

उत्तराखंड में 70 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा ने 47 सीटों पर जीत दर्ज की है हालांकि निवर्तमान मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी खटीमा में 6579 वोटों से हार गए। इससे पहले उन्होंने लगातार दो बार इस सीट पर जीत दर्ज की थी।

पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत भी कांग्रेस की नैया पार नहीं लगा सके ना ही वह लालकुआं सीट पर जीत हासिल कर पाए। कांग्रेस राज्य में 18 सीटें जीत पाई है और एक पर बढ़त बनाए हुए है। मणिपुर की 60 सदस्यीय विधानसभा में भाजपा ने 32 सीटों पर जीत हासिल की है। कांग्रेस केवल 5 सीटें जीत सकी।



और भी पढ़ें :