श्रीनगर में लश्कर के 2 'हाइब्रिड आतंकी' गिरफ्तार, भारी मात्रा में हथियार बरामद

पुनः संशोधित सोमवार, 23 मई 2022 (15:17 IST)
हमें फॉलो करें
जम्मू कश्मीर। पुलिस ने 2 स्थानीय लोगों को किया है। इनके पास से भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए हैं। इनके पास से से 15 पिस्टल, 30 मैगजीन, 300 राउंड गोलियां और एक साइलेंसर बरामद हुआ है।
पुलिस के मुताबिक इन दोनों लोगों का संबंध लश्कर-ए-तैयबा से है। कश्मीर के आईजी विजय कुमार ने सोमवार को बताया कि ने आतंकी संगठन लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े दो 'हाइब्रिड आतंकियों' को गिरफ्तार किया है।

इनके पास से से 15 पिस्टल, 30 मैगजीन, 300 राउंड गोलियां और एक साइलेंसर बरामद हुआ है। आईजी का कहना है कि इन दोनों आतंकियों की गिरफ्तारी पुलिस के लिए बड़ी उपलब्धि है। पुलिस ने इस संबंध में एफआईआर दर्ज कर ली है और आगे जांच की जा रही है।

कौन होते हैं 'हाइब्रिड आतंकी' : हाइब्रिड आतंकी वो होते हैं, जो पुलिस के रिकॉर्ड में आतंकियों के रूप में दर्ज नहीं होते, लेकिन इन्हें इतना कट्टरपंथी बना दिया जाता है कि ये कुछ भी करने को तैयार हो जाते हैं। आतंकी संगठन इनका इस्तेमाल हमलों के लिए करते हैं। ये वारदातों को अंजाम देते हैं, उसके बाद अपनी आम जिंदगी जीने लगते हैं। इसकी वजह से इन पर शक नहीं जाता।

पहले भी 5 आतंकी किए थे गिरफ्तार : इसके पहले पुलवामा में कश्मीरी पंडित राहुल भट की हत्या के बाद गरमाए माहौल में बारामूला के दीवान बाग इलाके में एक नई खुली वाइन शॉप पर भी एक आतंकी हमला हुआ था, जिसमें एक व्यक्ति की मौत हो गई थी और तीन घायल हुए थे।

इस मामले में पांच लोगों को गिरफ्तार किया गया था। इन आतंकियों के पास से भी भारी मात्रा में हथियार बरामद हुए थे। पुलिस का कहना था कि इन पांचों आतंकियों का संबंध भी लश्कर-ए-तैयबा से ही है।

अब तक 62 आतंकी ढेर : पिछले महीने आईजी विजय कुमार ने बताया था कि इस साल अब तक 62 आतंकियों को ढेर किया जा चुका है, जिनमें 15 विदेशी थे। इन आतंकियों में 39 लश्कर के और 15 जैश ए मोहम्मद से जुड़े थे। इनके अलावा हिज्बुल मुजाहिदीन के 6, अल बद्र के 2 आतंकी भी मारे जा चुके हैं।



और भी पढ़ें :