कुछ नया, कुछ ताज़ा ....

भाषा|

यूं तो परिवर्तन प्रकृति का नियम है, लेकिन यदि बेहतरी के लिए हो, खुशी के लिए हो तो फिर कहने ही क्या...अगर कुछ स्थायी है तो वो है बदलाव... यह भी सत्य है कि कोई भी नई चीज उत्सुकता पैदा करती है, जिज्ञासा बढ़ाती है, जब तक 'वह' चीज सामने नहीं आती मन आकुल रहता है..

WD

जल्द ही आप तक पहुँचेगा कुछ नया, कुछ ताज़ा .... बस थोड़ा सा इंतज़ार...




और भी पढ़ें :