0

ये क्षण महात्मा गांधी के साहस की पुनर्स्थापना के हैं!

मंगलवार,अक्टूबर 4, 2022
0
1
महात्मा गांधी कहा करते थे, ‘अगर मुझे एक दिन के लिए डिक्टेटर बना दिया जाए तो मैं बिना मुआवज़े के शराब की सारी दुकानें बंद कराना चाहूंगा’। सवाल ये है कि क्या गांधी जी के देश में उनके रचनात्मक कार्यक्रम और सत्याग्रह के अनुरूप ऐसे विचारणीय और ज़रूरी ...
1
2
बतौर एक प्रोडक्ट मैनेजर किसी भी कंपनी में आप जूनियर मैनेजर या एक्जिक्यूटिव लेवल से आरंभ कर सीनियर प्रोडक्ट मैनेजर आदि पदों पर काम करते हुए शीर्ष पदों तक पहुंच सकते हैं। हेल्थकेयर, आईटी, एफएमसीजी, मीडिया एंड एंटरटेनमेंट, टेलिकम्युनिकेशन आदि सेक्टर्स ...
2
3
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं गोरखपुर स्थित गोरक्षपीठ के पीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ के दादागुरु ब्रह्मालीन महंत दिग्विजयनाथ के बारे में कभी वीर सावरकर ने कहा था, 'यदि महंत दिग्विजयनाथ जी की तरह अन्य धर्माचार्य भी बिना भेदभाव के देश, जाति व धर्म की ...
3
4
उत्तरप्रदेश के लखनऊ के रकाबगंज के रहने वाले 82 वर्षीय रामेश्वर प्रसाद हाथों में यूरिन का बैग लेकर इधर-उधर भटक रहे हैं। उनके 2 युवा पुत्र और 4 पुत्रियां हैं, किन्तु कोई भी उनकी देखभाल नहीं करना चाहता। उनकी दयनीय स्थिति देखकर वन स्टॉप सेंटर ने उन्हें ...
4
4
5
अभी हम इंटरनेट स्‍पीड के लिए 4जी तकनीक का इस्‍तेमाल कर रहे हैं। इसके पहले 3जी था। और अब हम इंटरनेट सेवाओं को और ज्‍यादा ताकतवर या यूं कहें कि उसे रफ्तार देने के लि‍ए 5जी की ओर बढ़ रहे हैं। जाहिर है आज दुनिया इंटरनेट पर ही चल रही है। ऐसे में इंटरनेट ...
5
6
उन्होंने शायरी को महज़ मुहब्बत के जज़्बे तक ही महदूद न रखकर उसमें ज़िन्दगी की जद्दोजहद को शामिल किया। ज़िन्दगी को एक आम आदमी की नज़र से देखा, वहीं ज़िन्दगी को एक दार्शनिक के नज़रिये से भी देखा। जेल में रहने के दौरान साल 1949 में लिखा उनका फ़िल्मी गीत- ...
6
7
कुछ भाजपा व आरएसएस के विरोधियों के लिए पीएफआई पर प्रतिबंध सहित अन्य कार्रवाई भी मुस्लिम विरोधी एवं हिंदू वर्चस्व की कार्यवाही है। महाराष्ट्र के पुणे से वायरल एक वीडियो में साफ दिख रहा है कि पीएफआई कार्यकर्ता बार-बार पाकिस्तान जिंदाबाद का नारा लगा ...
7
8
कांग्रेस में लगातार घट रहे इन दृश्‍यों को अगर गौर से देखा जाए तो यह एक स्‍क्रिप्‍ट की तरह नजर आते हैं। राहुल गांधी की भारत जोड़ यात्रा की शुरूआत होती है, इसी दौरान कांग्रेस में अध्‍यक्ष पद के लिए कवायद शुरू होती है। ठीक इसी दौरान राजस्‍थान की ...
8
8
9
सुप्रीम कोर्ट ने अबॉर्शन यानी गर्भपात पर एक बड़ा फैसला लिया है। इस फैसले के अनुसार अविवाहित महिला को 24 हफ्तों तक गर्भपात का अधिकार है। अदालत ने फैसले में कहा कि विवाहित हो या अविवाहित सभी महिलाओं को 24 हफ्तों तक गर्भपात का अधिकार है।
9
10
यह वो गांधी तो बिल्कुल नहीं होगा, जो सरकारी दफ्तरों की दीवारों पर तस्‍वीरों में दर्ज है। ये वो गांधी भी बिल्कुल नहीं होगा जो चौराहों, चबूतरों पर बुत की तरह खड़ा कर दिया गया है। और ये वो गांधी तो कतई नहीं होगा जो सरकारी स्कूलों के पाठ्यक्रम में दर्ज ...
10
11
मां-बाप बड़े लाड़-प्यार से बच्चों की परवरिश करते हैं। उन्हें अच्छे से अच्छा खिलाने-पिलाने की कोशिश करते हैं। खुद पुराने कपड़े बरसों तक पहन लेते हैं, लेकिन अपने बच्चों को नए-नए कपड़े पहनाते हैं। खुद मेहनत-मजदूरी करके अपने बच्चों के अच्छे भविष्य के लिए ...
11
12
प्राचीन भारत की गौरवमयी संस्कृति का पता इसके साहित्य से ही चलता है। प्राचीन काल में भी यहां के लोग सुसंस्कृत और शिक्षित थे, तभी उस समय वेद-पुराणों जैसे महान ग्रंथों की रचना हो सकी। महर्षि वाल्मीकि की रामायण और श्रीमद भागवत गीता भी इसकी बेहतरीन ...
12
13
बुजुर्ग दिवस पर बुजुर्ग भी अपने गिरेबान में झांकें और स्वीकार करें कि उनसे भी गलतियां हुई हैं, होती हैं, मानवीय दुर्बलता का वे भी शिकार है, सिर्फ बुजुर्ग होने से वे दूध के धुले नहीं हैं। फिलहाल, शुभकामनाएं तो ले ही लीजिए अपने बुजुर्ग होने की.... ...
13
14
मां के गर्भ के नौ महीने और नवरात्रि के नौ दिवस, कितना खूबसूरत सा मेल है। सालों से नवरात्रि देखी और पूजन भी किया। इस बार एक विश्व प्रसिद्ध गरबा का हिस्सा बनने का अवसर मिला तो मन की अवस्थाओं को साझा करने का मन हुआ। गरबा इस शब्द का उगम ही गर्भ शब्द से ...
14
15
उनकी पहली गिरफ्तारी भी लाहौर में दशहरा बम-कांड के सिलसिले में 23 अक्तूबर को ही हुई थी। फांसी से दो दिन पहले जब मां उनसे अंतिम बार मिलने गई तो देखा, उसके खाना खाने के लोहे के बरतन में गुलाब के ताजे फूल रखे हैं। मां ने पूछा, ‘भगतसिंह, ये फूल कहां से ...
15
16
कई बार सोचा करता हूं क्या वे उनके विचारों को भी जला या बहा पाए? नहीं। उनके विचार आज भी दिल और दिमागों में आग लगाया करते हैं।
16
17
प्रधानमंत्री ने देश की सभी पिछली सरकारों और सामाजिक, धार्मिक एवं सांस्कृतिक संगठनों द्वारा स्वच्छता को लेकर किए गए प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि भारत को स्वच्छ बनाने का काम किसी एक व्यक्ति या अकेले सरकार का नहीं है, यह कार्य तो देश के 125 करोड़ ...
17
18
ब्रह्माजी द्वारा उपदेश में दुर्गाकवच कहा गया। इससे प्राप्त होने वाली जड़ी-बूटियों के माध्यम से हनुमानजी ने भगवान लक्ष्मण की जान बचाई बल्कि आज की तारीख में भी चिकित्सकों द्वारा मानव रोगोपचार हेतु अमल में लाया जाता है। प्रसिद्ध विद्वान चरक ने तो हर ...
18
19
इनसे पिछली पीढ़ी के बड़े होते हुए खुली आर्थिक नीति के दरवाज़े खुल गए थे, पूंजीवाद अपनी सफलता की चमक दिखाने लगा था और उनके लिए अच्छी नौकरी पाने का लोड था। उनके पैदा होने के साथ ही सैटेलाइट क्रांति हुई थी और उन बच्चों ने बड़े होते हुए अपने आसपास के घरों ...
19