सर्दी में कैसे करें अपने शिशु का निमोनिया से बचाव, जानिए 7 सरल उपाय

Mother n Kids
ठंड/ सर्दी के मौसम में नवजात शिशु को विशेष देखभाल की आवश्यकता होती है। इस मौसम में सुबह-शाम चलने वाली ठंडी हवा शिशु के लिए नुकसानदेह होती है। इससे बचने के लिए शिशु को गर्म ऊनी कपड़े पहनाकर रखें। जिससे शिशु का बदन गरम रहे।



निमोनिया की शिकायत अक्सर एक वर्ष से कम उम्र के शिशुओं को अधिक होती है। यदि आप शिशु की देखभाल में कुछ बातों का ध्यान रखेंगे तो हो सकता है कि आपका शिशु निमोनिया की बीमारी से बच सके। आइए जानें क्या करें उपाय...

1. सर्दी के मौसम में शिशु को सर्दी-खासी व बुखार की शिकायत हो सकती है। अत: ऐसे में लापरवाही न बरतें वर्ना शिशु को निमोनिया होने का खतरा बढ़ जाएगा। सर्दी-खासी और बुखार के लगातार होने पर तुरंत डॉक्टर के पास ले जाएं।

2. नवजात शिशु को हमेशा टोपी, मोजे व गर्म कपड़े पहनाकर रखें।

3. मौसम परिवर्तन पर शिशु का विशेष खयाल रखें क्योंकि मौसम परिवर्तन के साथ ही शिशु की बीमारियों की शुरूआत होती है।

4. सर्दी से शिशु को उल्टी, दस्त या बुखार होने पर तत्काल डॉक्टर के पास ले जाएं।

5. यदि शिशु को अस्पताल में भर्ती करने की सलाह देता है तो उनकी सलाह को अनदेखा ना करें।

6. अगर शिशु मां का दूध नहीं पी रहा है तो इसका कारण सर्दी, खासी मानकर शिशु का घरेलू इलाज ना करें।

7. शिशु के जागने के बाद उसे तुरंत उठाकर खुली हवा में न ले जाएं। ऐसा करने से शिशु के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। अत: उसका पूरा ध्यान रखें और इस बीमारी से अपने बच्चे की रक्षा करें।



और भी पढ़ें :